पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

कोरोनाकाल में स्वास्थ्यकर्मी बेहाल:सीएमएचओ के पैर पकड़ बोला नर्सिंगकर्मी -28 दिन से घर नहीं गया, छुट्टी दे दो

भिवाड़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बीडा कार्यालय में पहुंचे नर्सिंगकर्मी, 10 मिनट तक चला घटनाक्रम, सीएमएचओ ने हाथ जोड़ समाधान का वादा किया

पांच महीने लंबे कोरोना संकट में काम के दबाव से स्वास्थ्य कर्मी भी हारने लगे हैं। करीब 28 दिन से लगातार ड्यूटी और परिवार से दूरी से परेशान ऐसा ही एक स्वास्थ्य कर्मी शनिवार को केंद्रीय टीम के साथ भिवाड़ी पहुंचे अलवर सीएमएचओ के पैर में आ गिरा। बोला-सर, 28 दिन से घर की नहीं गया। छुट्टी मांगता हूं तो अधिकारी नौकरी छोड़ने की कहते हैं।

घरवाले रोज पूछते हैं, कब आओगे। क्या जवाब दें? अब आपके पैर तभी छोडूंगा जब आप मुझे छुट्टी दिलाएंगे। बीडा कार्यालय में इस अप्रत्याशित घटना से अफसर असमंजस में पड़ गए। सीएमएचओ ओपी मीणा ने भी एक बार उसे हाथ जोड़ दिए, फिर समाधान का आश्वासन देकर अपने पैर छुड़ाए। घटनाक्रम करीब 10 मिनट चला। दरअसल केंद्र के स्वास्थ्य मंत्रालय की टीम शनिवार को बीडा कार्यालय पहुंची। मीटिंग के बाद अधिकारी निकल ही रहे थे कि कोरोना मरीजों के वार्ड में तैनात नर्सिंगकर्मी भी वहां पहुंच गए। उनमें से से नर्सिंगकर्मी मोहन सिंह ने गाड़ी में बैठ रहे सीएमएचओ डॉ. ओपी मीणा के पैर पकड़ लिए।

उसका कहना था कि शुरुआत में 14 दिन की ड्यूटी और इसके बाद 7 दिन क्वारेंटाइन की बात कही गई थी। मगर छुट्‌टी और साप्ताहिक अवकाश तक नहीं मिला। जबकि हम लोग जिले के अलग-अलग इलाकों से आकर यहां ड्यूटी कर रहे हैं। हमारे साथ के कई नर्सिंगकर्मियों को 14 दिन की ड्यूटी के बाद रिलीव किया जा चुका है।

मगर हम अधिकारियों से रिलीव की बात कहते हैं तो वे नौकरी छोड़ जाने को कहते हैं। अब तो आप ही हमें छुट्टी दिला सकते हैं। इस घटना से असहज हुए सीएमएचओ डॉ मीणा ने अपने पैर छुड़ाने का काफी प्रयत्न किया, लेकिन नर्सिंगकर्मी ने पैर नहीं छोड़ा।

करीब 10 मिनट तक चले घटनाक्रम के बाद सीएमएचओ डॉ. मीना ने नर्सिंगकर्मी के सामने हाथ जोड़ दिए। समस्या के उचित समाधान का आश्वासन दिया तब जाकर नर्सिंगकर्मी पीछे हटा। इस दौरान नर्सिंगकर्मी विजयपाल यादव, रामकेश मीना, राकेश वर्मा, हेमंत सैनी, आशीष शर्मा आदि मौजूद थे।

भिवाड़ी में होगी एंटीजन टेस्ट की सुविधा
इससे पूर्व केंद्र सरकार की स्वास्थ्य विभाग की टीम संयुक्त सचिव राजीव ठाकुर के निर्देशन में भिवाड़ी पहुंचे। उन्होंने भिवाड़ी में कोरोना संक्रमण पर जानकारी ली और भिवाड़ी की स्थिति बहुत खराब बताई। ठाकुर ने कहा कि हरियाणा की तर्ज पर यहां भी एंटीजन टेस्ट की व्यवस्था की जाएगी। ताकि तुरंत ही कोरोना का पता लग सके।

जांच के बाद रिपोर्ट आने तक उस व्यक्ति को क्वारेंटाइन करने तथा निजी अस्पतालों में भी रेंडम सेंपलिंग की व्यवस्था करने के निर्देश दिए। बीडा सीईओ नीलाभ सक्सेना, तहसीलदार अरविंद कविया, डीएसपी हरिराम कुमावत, डिप्टी सीएमएचओ डॉ छबील कुमार भी मौजूद रहे।

जिले भर से आए 41 नर्सिंगकर्मी दे रहे ड्यूटी
दरअसल भिवाड़ी के विभिन्न कोविड सेंटरों पर जिले की विभिन्न सीएचसी और पीएचसी से आए नर्सिंगकर्मी ड्यूटी दे रहे हैं। इनसे छह-छह घंटे की ड्यूटी भी ली जा रही है। नियमानुसार कोरोना वार्ड में ड्यूटी के बाद 14 दिन क्वारेंटाइन के इन्हें रिलीव भी करना था। मगर ऐसा नहीं किया गया। वजह भिवाड़ी में बढ़ रहे कोरोना मामले बताए गए। स्वास्थ्य कारणों से चिंतित नर्सिंगकर्मी लगातार रिलीव करने की मांग कर रहे हैं। नर्सिंगकर्मियों को पता लगा कि शनिवार को सीएमएचओ भिवाड़ी आए हैं तो वह रिलीव होने के लिए उनके पास ही पहुंच गए।

0

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप धैर्य व विवेक का उपयोग करके किसी भी समस्या को सुलझाने में सक्षम रहेंगे। आर्थिक पक्ष पहले से अधिक सुदृढ़ स्थिति में रहेगा। परिवार के लोगों की छोटी-मोटी जरूरतों का ध्यान रखना आपको खुशी प्र...

और पढ़ें