पाबंदी के बाद भी चल रहे डीजल जनरेटर:ग्रेप के नियमों का हो रहा उल्लंखन, तहसीलदार ने रुकवाया टावर का निर्माण कार्य

भिवाड़ीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
नगर परिषद कार्यालय के सामने वाले रोड पर चल रहा है रिलायंस के जिओ टावर के निर्माण का काम। - Dainik Bhaskar
नगर परिषद कार्यालय के सामने वाले रोड पर चल रहा है रिलायंस के जिओ टावर के निर्माण का काम।

भिवाड़ी में बढ़ते प्रदूषण को कंट्रोल करने के लिए एयर कमीशन के द्वारा चौथे चरण की पाबंदियां लागू की गई है, इन पाबंदियों की पालना कराने के लिए भिवाड़ी के सभी विभागों के अधिकारियों को भी शक्ति से निर्देशित किया गया है। भिवाड़ी के अफसर इन नियमों की कितनी पालना करा रहे हैं, इसकी एक बानगी रविवार को प्रत्यक्ष रूप से देखने को मिली।

एयर कमीशन ने दिल्ली सहित पूरे एनसीआर क्षेत्र में ग्रेप के चौथे चरण की पाबंदियों को लागू करते हुए सभी उद्योग इकाइयों को बंद करने के आदेश दिए हैं तो वही किसी भी प्रकार के निर्माण कार्यों पर भी पूर्ण रूप से पाबंदी लगाई गई है, लेकिन भिवाड़ी में नगर परिषद के कार्यालय के सामने ही मल्टी स्टोरी बिल्डिंग का निर्माण चल रहा है तो वहीं पर तमाम पाबंदियों के बावजूद रविवार को रिलायंस कंपनी के JIO टावर लगाने का निर्माण कार्य भी चालू कर दिया गया। इसके अलावा भी कई जगहों पर मल्टीस्टोरी बिल्डिंगों का निर्माण चल रहा है। इस सबके बीच कमाल की बात तो यह है कि इन निर्माण कार्यों में खुले में डीजल जनरेटर को भी काम में लिया जा रहा है, जबकि डीजे सेट पर पूर्ण रूप से पाबंदी है।

रिलायंस के जिओ टावर के बेस का निर्माण करने के लिए केंट्रा गाड़ी में रखे सीमेंट के कट्टे।
रिलायंस के जिओ टावर के बेस का निर्माण करने के लिए केंट्रा गाड़ी में रखे सीमेंट के कट्टे।

तहसीलदार ने बंद करवाया काम

रविवार को जब निर्माण कार्य की सूचना बीड़ा तहसीलदार अरुण कुमार को मिली तो वह प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के आरओ अमित शर्मा के साथ मौके पर पहुंचे और निर्माण कार्य को बंद करवाया। मीडिया कर्मियों ने जब बीड़ा तहसीलदार अरुण कुमार से निर्माण कार्य के कई दिनों से चलने की बात पर सवाल पूछे तो वह अटपटा जवाब देते हुए कहने लगे कि उनके पास ऊपर से जो आदेश आएंगे वह उसी हिसाब से काम करेंगे। निर्माण कार्य कितने दिन से चल रहा है इसकी उन्हें सूचना नहीं थी। रिलायंस का टावर लगाने का काम पाबंदियों के बीच चालू किया गया था उसे भी बंद करा दिया गया है।

कलेक्टर के आदेशों की नहीं हो रही पालना

ऐसे में अंदाजा लगाया जा सकता है कि जो निर्माण गत 1 महीने से चल रहा था उसकी इन अधिकारियों को सूचना भी नहीं है। जबकि जिला कलेक्टर ने तमाम पाबंदियों की पालना कराने के लिए सभी विभागों के अफसरों की एक कमेटी भी बनाई हुई है जो रोजाना फील्ड में जाकर जायजा लेगी और कहीं भी ग्रेप के नियमों का उल्लंघन होते हुए पाया जाता है तो उस पर कार्रवाई करेगी। भिवाड़ी में ऐसा कुछ भी देखने को नहीं मिल रहा है और सरकार के नुमाइंदे ही सरकार के नियमों की अवहेलना कराने में लगे हुए हैं ।

इंजीनियर को नियमों की जानकारी ही नहीं

वही इस विषय में JIO टावर के इंजीनियर नवीन कुमार से बात की गई तो उन्होंने बात करने से ही मना कर दिया और कहने लगे कि उनके पास टावर लगाने के आदेश है ग्रेप के नियमों की उन्हें जानकारी नहीं है।

रिलायंस टावर के निर्माण कार्य को रुकवाने के लिए मौके पर आए बीड़ा तहसीलदार अरुण कुमार व आरओ अमित शर्मा।
रिलायंस टावर के निर्माण कार्य को रुकवाने के लिए मौके पर आए बीड़ा तहसीलदार अरुण कुमार व आरओ अमित शर्मा।
रिलायंस टावर के निर्माण के समय मिक्सर मसाला बनाने के लिए पावर सप्लाई लेने के लिए काम में लिया जा रहा है डीजल जनरेटर।
रिलायंस टावर के निर्माण के समय मिक्सर मसाला बनाने के लिए पावर सप्लाई लेने के लिए काम में लिया जा रहा है डीजल जनरेटर।
खबरें और भी हैं...