पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पुलिस ने सुरक्षा कारणों का हवाला देकर मिलने से रोका:पिता को नहीं मिलने दिया पपला से, बोला क्या मेरा बेटा कसाब से भी बड़ा अपराधी

नीमराना18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
थाने के बाहर पिता व अधिवक्ता को राेकती पुलिस। - Dainik Bhaskar
थाने के बाहर पिता व अधिवक्ता को राेकती पुलिस।

पुलिस थाने में रिमांड पर चल रहे कुख्यात बदमाश विक्रम उर्फ पपला गुर्जर के पिता शनिवार को उससे मिलने पहुंचे, लेकिन पुलिस ने सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए इजाजत नहीं दी। पुलिसकर्मियों ने पपला के पिता मनोहरलाल और साथ आए वकील को पूछताछ के बाद वापस लौटा दिया। मायूस पिता बोला कि दो बेटे हैं, दोनों ही जेल में बंद हैं। साल 2017 के बाद उसने बेटे को नहीं देखा है। मुलाकात होती तो उसे कहता कि अपराध की दुनिया छोड़ नेक राह पर चले। मनोहरलाल ने मुलाकात नहीं कराने पर नाराजगी जताते हुए कहा कि मुंबई हमले के आरोपी कसाब को भी ‌वकील से मुलाकात की इजाजत मिली थी। मेरा बेटा क्या उससे भी बड़ा अपराधी है। पुलिस अधिकारियों ने इस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी।

वकील के साथ पहुंचा पिता, वकालतनामे पर साइन भी नहीं कराए

पपला का पिता मनोहरलाल कोटपूतली के अधिवक्ता गोविंद सिंह रावत के साथ करीब 11.45 बजे नीमराना पुलिस थाने पहुंचा। थाने के बाहर खड़े सशस्त्र जवानों ने उसे बेरिकेड लगाकर रोक दिया। सूचना थाने पर पूछताछ कर रहे एएसपी सिद्धांत शर्मा को दी गई। अनुमति नहीं मिलने पर दोनों को बाहर से लौटा दिया गया। इसके बाद वकील रावत नीमराना अभिभाषक संघ का वकालतनामा लेकर लौटे और कहा कि पपला गुर्जर के हस्ताक्षर करवाने हैं।

इस पर पुलिसकर्मी वकील रावत को अंदर लेकर गए। पुलिसकर्मियों ने वकील को पपला गुर्जर से नहीं मिलाया और खुद ही वकालतनामे पर साइन कराने लेकर पहुंचे। इस पर पपला ने यह कहते हुए साइन करने से मना कर दिया कि मैं वकील को नहीं जानता हूं। मुझे मेरे पिता या किसी परिचित से मिलाओ तब साइन करूंगा। इसके बाद पुलिसकर्मियों ने वकील रावत को जानकारी देकर वापस बाहर भेज दिया।

पिता बोला-उसको सजा मिले, लेकिन पिता तो बेटे से मिल सकता है

मनोहर लाल ने भास्कर संवाददाता से कहा कि पुलिसकर्मियों ने उसके बेटे से मिलने नहीं दिया जबकि 2 दिन पहले 4 फरवरी को पुलिस थाने का कांस्टेबल एवं महेंद्रगढ़ पुलिस थाने के सिपाही ने घर जाकर पपला की गिरफ्तारी का समाचार दिया था। बावजूद उसको मिलने नहीं दिया। ईश्वर से प्रार्थना कर रहा हूं कि कोई फरिश्ता मुझे मेरे बेटे से मिला दे।

मैं उसके गुनाहों की तरफदारी नहीं कर रहा। उसने जो किया है वह गलत किया है। लेकिन पिता को बेटे से मिलने का हक तो है। मुंबई हमले के आतंकवादी कसाब को भी वकीलों से मिलने की इजाजत दी गई थी। क्या मेरा बेटा उससे भी बड़ा अपराधी है। या अपराधियों के अलग-अलग मिलने के नियम होते हैं। मामले पर पक्ष जानने के लिए भास्कर ने एएसपी सिद्धांत शर्मा से फोन पर बात करनी चाही लेकिन उन्होंने फोन पिकअप नहीं किया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज ग्रह गोचर और परिस्थितियां आपके लिए लाभ का मार्ग खोल रही हैं। सिर्फ अत्यधिक मेहनत और एकाग्रता की जरूरत है। आप अपनी योग्यता और काबिलियत के बल पर घर और समाज में संभावित स्थान प्राप्त करेंगे। ...

और पढ़ें