पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • 121 Active Cases Of Corona In The Village Alone, Police Guard Outside The Village, Corona Door To Door Rising From Inside, Three Died Also

जौड़िया गांव को कोरोना ने जकड़ा:अकेले गांव में 121 कोरोना के एक्टिव केस, गांव के बाहर पुलिस का पहरा, अन्दर से कोरोना डोर टू डोर बढ़ रहा, दो की मौत भी

अलवर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
अलवर के कोटकासिम का जोड़िया गां - Dainik Bhaskar
अलवर के कोटकासिम का जोड़िया गां

अलवर जिले के कोटकासिम क्षेत्र के जौड़िया गांव को कोरोना ने पूरी तरह जकड़ लिया है। अकेले गांव में 131 पॉजिटिव आ चुके। वहीं 121 एक्टिव केस हैं। दो की मौत भी हो चुकी है। कोरोना लगातार डोर टू डोर आगे बढ़ने से रुक नहीं रहा। जबकि पिछले करीब 15 दिनों से गांव के बाहर पुलिस का पहरा भी है। फिर भी संक्रमण बेलगाम है। मरीज बढ़ने से अस्पतालों में भीड़ है। शासन ने गांव को कंटेनमैंट जोन बना दिया है। और गांव के तीन मैन प्वाइंट पर पुलिस तैनात कर दी है।

बाहरी लोगों से फैला कोरोना
ग्रामीणा बताते हैं कि जौडिया गांव में दिल्ली, जयपुर और अन्य शहरों से आने वाले लोगों के कारण कोरोना फैला है। गांव के लोगों का शहरों में रोजगार के लिए आवगमन रहता है। जिस कारण गांव में कोरोना वायरस आया और अब यह वायरस एक-दूसरे से फैलता हुआ करीब 131 लोगों चपेट में ले चुका है। जिसमें से 121 एक्टिव केस हैं। कोटकासिम ब्लॉक में जौड़िया गांव में सबसे अधिक पॉजिटिव आ रहे हैं।

झोलाछाप डॉक्टरों के पास जा रहे लोग
गांव में कई ऐसे डॉक्टर हैं जिनके पास न मेडिकल डिग्री है न कोई सर्टिफिकेट। फिर भी बीमार लोगों को दवाई दे रहे हैं। जिसके कारण कुछ ठीक भी हो जाते हैं। लेकिन, झोलाछाप के चक्कर में आने से कई केस बिगड़ जाते हैं। जिनको बाद में अस्पतालाें में जिंदगी और मौत से जूझना पड़ता है।

रोज ले रहे 50 से 60 सैंपल
पीएचसी प्रभारी डॉ. गोविंद का कहना है कि गांव में लोग लापरवाही बरत रहे हैं। बहुत कम लोग मास्क लगा रहे हैं। लोग जमघट जमाने से नहीं रुकते, जिस कारण गांव में कोरोना फैल रहा है। गांव से रोजाना 50-60 सैंपल लिए जा रहे हैं लेकिन रिपोर्ट आने में 2-3 दिन का वक्त लगता है। इस बीच पॉजिटिव आने वाले भी इधर उधर घूमते हैं।