पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • After 5 Months, Everything Changed In The Unmarried Weddings, The Number Of Guests Was Not Counted, There Was No Fanfare, Action Was Taken In Two Places.

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

देवउठनी एकादशी:5 महीने बाद अनलाॅक हुई शादियों में सब कुछ बदला, मेहमानों की हाेती रही गिनती, धूमधड़ाका नहीं हुआ, दो जगह कार्रवाई

अलवर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • कई शादियां दिन में हाे गई, रात की शादियां भी जल्दी सिमट गई, मास्क से ढक गई रौनक

करीब 5 महीने बाद बुधवार से शादियां अनलाॅक हाे गई। देवउठनी एकादशी का अबूझ सावा हाेने के कारण शादियाें की धूम रही। हाेटल, मैरिज हाेम, मैरिज गार्डन और धर्मशालाएं फुल हाेने के कारण मंदिराें में भी शादी हुई। शादियाें में सरकार की ओर से जारी काेविड -19 की गाइड लाइन की पालना की गई। नगर परिषद आयुक्त ने बताया कि दो शादियों में संख्या अधिक हाेने के कारण कार्रवाई की गई है।

विवाहस्थलाें के बाहर नाे मास्क नाे एंट्री व साेशल डिस्टेंसिंग के बाेर्ड लगे हुए थे। प्रशासन की कार्रवाई से बचने के लिए विवाह समाराेह में आने वाले प्रत्येक व्यक्ति पर नजर रखी जा रही थी। कई जगह विवाह स्थल के गेट पर ही आगंतुकाें का तापमान मापा जा रहा था, जिन्हाेंने मास्क नहीं लगाया हुआ था उन्हें फेस मास्क दिए गए और मेहमानाें के सेनिटाइजर से हाथ धुलाए जा रहे थे।

इस काम के लिए गेट पर दाे-तीन लाेग अलग से खड़े हुए थे। शादियाें में शामिल अधिकांश लाेग मास्क लगाए हुए थे। काफी लाेग अपने साथ सेनिटाइजर भी लेकर पहुंचे थे। शादियाें में लगी स्टाल पर खड़े हाेने वाले कैटर्स व वेटर्स भी मास्क लगाए हुए थे। शादियाें में मास्क लगाने के अलावा बड़ा बदलाव यह देखने काे मिला कि कई दूल्हे कार में सवार हाेकर घर से सीधे ही विवाह स्थल पहुंचे।

पहले की तुलना में स्टेज ऊंचे थे। स्टेज पर भीड़ नहीं हाे, इसलिए कम लाेगाें काे चढ़ने दिया जा रहा था। दूल्हा-दुल्हन भी मास्क लगाए हुए थे। जिन की बारात जानी थी, उनकी निकासी सुबह 10 बजे तक ही निकाल ली गई।
गायत्री मंदिर में हुआ आदर्श विवाह

देवउठनी एकादशी पर दिन में यहां गायत्री मंदिर में वैदिक रीति से एक आदर्श विवाह भी हुआ। यह विवाह दिल्ली दरवाजा निवासी अनिल पुत्र कैलाश का तिजारा फाटक निवासी ज्याेति पुत्री नारायण के साथ हुआ। इसमें वर पक्ष के 7 और वधू पक्ष के 5 लाेग शामिल हुए। ट्रस्टी सतीश सारस्वत ने बताया कि शादी में फिजूलखर्च नहीं हाे, इसलिए एक जाेड़े का साधारण तरीके से गायत्री मंदिर में विवाह हुआ है।
मैरिज हाेम नहीं मिला, ताे मंदिर में की शादी
केंद्रीय विद्यालय से सेवानिवृत्त प्राचार्य विजय नगर निवासी महेंद्र की पाेती अनुप्रिया की बुधवार काे आगरा निवासी अजय के साथ एनईबी स्थित शिव मंदिर में शादी हुई। महेंद्र ने भास्कर काे बताया कि पाेती की शादी के लिए दिल्ली राेड स्थित एक हाेटल बुक कराई थी लेकिन लाॅकडाउन के कारण दाे बार शादी टालनी पड़ गई। बाद में जब हाेटल वाले काे 25 नवंबर की शादी तय हाेने की बात बताई, ताे पहले ताे उसने कहा कि हाेटल खाली नहीं है। फिर तीन गुना रेट बताई। शादी के लिए अन्य हाेटल, मैरिज हाेम, मैरिज गार्डन व धर्मशाला की तलाश की, लेकिन खाली नहीं मिली। इस कारण मंदिर में करनी पड़ी।

154 में से 63 बसें बाराताें में जाने से 43 बसें राेडवेज ने रद्द की, यात्री हुए परेशान

अलवर| राेडवेज ने देवउठनी एकादशी पर बुधवार काे विभिन्न मार्गाें पर चलने वाली 43 बसें निरस्त कर दी। इस कारण यात्रियाें काे बसाें के लिए एक घंटे तक इंतजार करना पड़ा। देवउठनी एकादशी का अबूझ सावा हाेने के कारण राेडवेज की 154 में से 63 बसें बारात के लिए बुक थी। इनमें अलवर आगार की 85 में से 41 और मत्स्य नगर आगार की 69 में से 22 बसें शामिल हैं। राेडवेज की ओर से निरस्त की गई 43 बसाें में अलवर अागार की 35 व मत्स्य नगर आगार की 8 बसें शामिल रही।

अलवर आगार ने मथुरा की 10, भरतपुर की 6, दिल्ली व जयपुर की 4-4, कैलादेवी, सिकंदरा व फिराेजपुर झिरका की 2-2, खेड़ली, बयाना व लक्ष्मणगढ़-तिलवाड़ा की 1-1 बस ट्रिप निरस्त कर दी। वहीं, मत्स्य नगर आगार ने बहराेड़ व जयपुर की 3-3 व भिवाड़ी की 2 बसें निरस्त कर दी। इस कारण इन स्थानाें पर जाने वाले यात्रियाें काे एक घंटे तक बसाें का इंतजार करना पड़ा। कालाकुआं कालाेनी निवासी रमेश गुप्ता का कहना था कि शादी में नगर जाने के लिए अाधा घंटे से बस का इंतजार कर रहा हूं। दाेपहर के 12.30 बज गए, लेकिन मथुरा की बस का अता-पता नहीं है।

  • जिन जगहाें की राेडवेज की बसें बारात के लिए बुक थी, उस रूट की बसाें के संचालन की अवधि बढ़ाकर 30 मिनट से लेकर एक घंटे कर दी गई। - नीशू कटारा, मुख्य प्रबंधक, अलवर आगार

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का अधिकतर समय परिवार के साथ आराम तथा मनोरंजन में व्यतीत होगा और काफी समस्याएं हल होने से घर का माहौल पॉजिटिव रहेगा। व्यक्तिगत तथा व्यवसायिक संबंधी कुछ महत्वपूर्ण योजनाएं भी बनेगी। आर्थिक द...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser