पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Alwar Live: Swimming Pool Turned Into Cricket Ground, Ball And Ball, Ball Kabaddi, Volleyball And Pittu Frozen In Listened Grounds

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

अलवर में शुभ संक्रांति:स्विमिंग पूल को बना दिया क्रिकेट मैदान, सूने मैदानों में जम गया बॉल व बल्ला, कबड्डी, वॉलीबाल व सतोलिया

9 दिन पहले
शहर के राजर्षि कॉलेज में बने स्विमिंग पूल में क्रिकेट जम गया।
  • करीब 10 माह के बाद लौटी रौनक

करीब 10 महीने बाद जिले में मकर संक्रांति के दिन नए पुराने खेलों की रंगत वापसी लौटी है। अब तक सूने पड़े मैदानों में चौके छक्कों की गूंज सुनाई देने लगी है। खेल मैदान ही नहीं राजा महाराजाओं के समय के तरणताल में भी विकेट गाड़ कर बल्ला घुमाया जा रहा है। गांवों में कहीं कबड्डी, कहीं वॉलीबाल, दौड़-भाग खूब उत्साह के साथ खेला जा रहा है। गली-मुहल्लों में पिट्ठू (सतोलिया) का उत्साह ज्यादा है। अब इस माहौल से संक्रमण के बादल छंटते नजर आ रहे हैं।

घरों में कैद रहे बच्चे भी बाहर निकले
करीब 10 महीनों तक न स्कूल न काॅलेज। कोचिंग भी बंद रहे। कभी लॉकडाउन तो कभी पांबदियां। बीच-बीच में बाजार भी बंद होते रहे। लेकिन, मकर संक्रांति पर घर की गली से लेकर बाजार, खेल मैदानों पर रौनक लौटी है। सुबह सात बजे से ही बच्चे व युवाओं के अलग-अलग खेल शुरू हो गए।

शहर में पतंगबाजी बहुत कम
अलवर जिले में जयपुर की तुलना में पतंगबाजी बहुत कम होती है। लेकिन, यहां खेल खेलने पर जोर रहता है। हर कोई अपने पंसद के खेल में उतर गया। बच्चे व युवाओं ने कहा कि महीनों के बाद खेलने का मौका मिला है। इस कारण चेहरे पर उत्साह भी साफ दिखा।

गांवों में कबड्डी, पिट्ठू व दौड़-भाग
गांवों में कहीं कबड्डी, कहीं पिट्ठू व दौड़ भाग में युवा जोर अजमाइश करते नजर आए। ज्यादातर ग्रामीण तो ऐसे खेलों में दर्शक की भूमिका में पूरा लुत्फ उठाते हैं। कहीं सुबह 10 बजे से कहीं सुबह 11 बजे से ऐसे खेलों का गांव के स्तर पर आयोजन शुरू हो गया। हर साल मकर संक्रांति को इस तरह के आयोजन होते हैं।

बोले- एक साल पहले मकर संक्रांति के बाद अब खेल मैदान पर
कोरोना महामारी का असर जिले में पिछले साल मकर संक्रांति के बाद ही शुरू हुआ था। ग्रामीणों का कहना है कि मकर संक्रांति के बाद किसी तरह के खेलों का आयोजन नहीं हुआ। अब काेरोना वैक्सीन भी आ गई है। इस कारण मकर संक्रांति पर पहले से भी अधिक उत्साह है।

अलवर स्टेशन रोड गोशाला में हरा चारा दान खूब हुआ।
अलवर स्टेशन रोड गोशाला में हरा चारा दान खूब हुआ।

गांवों में देर शाम तक होंगे खेल

गांवों में देर शाम तक खेलों का आयोजन होगा। सुबह करीब 11 बजे से लेकर देर शाम तक कबड्डी व वॉलीबाल के खेल चलते हैं। दूर दराज की टीमें आती हैं। विजेताओं को पुरस्कार दिए जाते हैं। कई जगहों पर तो रात को खेल पूरे कराने के लिए रोशनी भी करनी पड़ जाती है।

हरे चारा काटने की मशीन बाजार में सुबह से चलती रही।
हरे चारा काटने की मशीन बाजार में सुबह से चलती रही।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कोई लाभदायक यात्रा संपन्न हो सकती है। अत्यधिक व्यस्तता के कारण घर पर तो समय व्यतीत नहीं कर पाएंगे, परंतु अपने बहुत से महत्वपूर्ण काम निपटाने में सफल होंगे। कोई भूमि संबंधी लाभ भी होने के य...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser