पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Alwar Resident Niharika Sharma Got Married In Jaipur This Year Only A Few Days After The RAS Interview, 15th Rank In The State

सगाई बाद इंटरव्यू तक पति से करंट अफेयर पर बातें:शादी से 20 दिन पहले ही हुआ RAS का इंटरव्यू, फिर अलवर की निहारिका शर्मा को मिली 15वीं रैंक

अलवर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
RAS 2018 में 15वीं रैंक पाने वाली अलवर की निहारिका शर्मा। - Dainik Bhaskar
RAS 2018 में 15वीं रैंक पाने वाली अलवर की निहारिका शर्मा।

राजस्थान लोक सेवा आयोग की ओर से जारी आरएएस 2018 के परिणाम में अलवर शहर निवासी निहारिका शर्मा ने पूरे राजस्थान में 15वीं रैंक हासिल की है। जबकि निहारिका ने शादी से करीब 20 दिन पहले ही आरएएस का इंटरव्यू दिया था। सगाई उससे पहले ही हो गई थी, लेकिन सगाई के बावजूद एकाग्र होकर निहारिका ने तैयारी की। खास बात यह रही कि इंटरव्यू की तैयारी कराने में उनके पति का भी योगदान रहा।

निहारिका का 9 अप्रैल को इंटरव्यू था और 30 अप्रैल को शादी हुई है। नवम्बर माह में रिश्ता हुआ था। उसके बाद से दोनों के बीच बातचीत होती थी। दोनों की सगाई के बाद उनके डॉक्टर पति निहारिका से फोन पर बातचीत में करंट अफेयर सहित कई तरह के सवाल पूछते रहते थे। ताकि तैयारी भी हो और मोटिवेशन भी मिलता रहे। माता-पिता के सहयोग और पति के मोटिवेशन ने निहारिका को और बल दिया। अंतत: टॉप 15 में जगह बना ली। निहारिका इस समय जयपुर नगर निगम में राजस्व अधिकारी हैं। इससे पहले अलवर नगर परिषद में भी राजस्व अधिकारी रही हैं। निहारिका के पिता जयपुर जेडीए में एक्सईएन हैं। सास-ससुर ने आगे बढ़ने को प्रेरित किया है।

निहारिका शर्मा पति डॉ. रितेश व पिता धर्मेन्द्र शर्मा के साथ।
निहारिका शर्मा पति डॉ. रितेश व पिता धर्मेन्द्र शर्मा के साथ।

नियमित 3 घंटे पढ़ें, रिवीजन करते रहें

निहारिका का कहना है कि नौकरी में रहते हुए भी नियमित रूप से पढ़ाई पर ध्यान दिया। मेरा मानना है कि नियमित तीन घंटे पढ़ाई करना जरूरी है। चाहे कोई भी दिन हो। अपने लक्ष्य को पाने के लिए समय निकालना ही पड़ता है। मल्टीपल रिवीजन बहुत जरूरी है। कोचिंग हैल्पफुल होती है, लेकिन कोचिंग नहीं भी जा सकते तो लगातार खुद को अपडेट रखकर तैयारी की जा सकती है। नियमित रूप से न्यूजपेपर व मैगजीन पढ़ने के अलावा स्टडी मेटेरियल पर फोकस करना जरूरी है।

टॉपर्स की गाइडेंस लें

निहारिका कहती हैं, किसी भी एग्जाम के टॉपर हों या पुराने आफिसर उनसे गाइडेंस ले सकते हैं। उनके बताए अनुभव को फॉलो करना चाहिए। मुझे भी जयपुर में सीनियर RAS ने मोटिवेट किया। उन्होंने कहा था कि आपको एक अटेम्ट लेना चाहिए। हालांकि मेरी तैयारी पहले से चल रही थी, लेकिन किसी सीनियर के ऐसा कहने के बाद जो उत्साह मिलता है वह नई ऊर्जा के साथ पढ़ने को प्रेरित करता है।

RAS में 7वीं रैंक पाने वाले रवि गोयल व 15वीं रैंक पाने वाली निहारिका शर्मा।
RAS में 7वीं रैंक पाने वाले रवि गोयल व 15वीं रैंक पाने वाली निहारिका शर्मा।

टॉप 20 में अलवर के दो अभ्यर्थी

प्रदेश की आरएएस की टॉप 20 की सूची में अलवर के दो अभ्यर्थी सफल रहे हैं। प्रदेश में 7वीं रैंक रवि गोयल ने हासिल की है। जबकि 15वीं रैंक पर निहारिका शर्मा रही हैं। इसके अलावा भी जिले से काफी संख्या में अभ्यर्थियों का चयन हुआ है।

खबरें और भी हैं...