• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Artists Painted, The Art Of The Umbrella Of Musi Maharani Made Of Sand, The Boats Sprung, The Ocean Lit Up With 3100 Lamps

मत्स्य उत्सव कार्यक्रमों में दिखी संस्कृति की झलक:कलाकारों ने रंग जमाया, रेत से बनाई मूसी महारानी की छतरी की कलाकृति, नावों की दाैड़ हुई, 3100 दीपकों से सागर जगमगाया

अलवर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
नृत्य की प्रस्तुति देते लाेक कालाकार। - Dainik Bhaskar
नृत्य की प्रस्तुति देते लाेक कालाकार।

मत्स्य उत्सव के दूसरे दिन गुरुवार काे विभिन्न कार्यक्रम हुए। इनमें साइकिल रैली, इंदिरा गांधी स्टेडियम में एडवेंचर व सांस्कृतिक कार्यक्रम, सागर पर पैडल बाेट रेस व दीपदान, मूसी महारानी की छतरी पर सांस्कृतिक कार्यक्रम और शाम काे महल चाैक में सांस्कृतिक कार्यक्रम शामिल रहे। दूसरे दिन भी पर्यटकाें के लिए संग्रहालय में प्रवेश मुफ्त रहा। शाम हाेते ही शहर के प्रमुख चाैराहे व सरकारी इमारतें रंगबिरंगी राेशनी से जगमग हाे गई। उत्सव के तीसरे व अंतिम दिन शुक्रवार शाम 7 बजे इंदिरागांधी स्टेडियम में म्यूजिकल नाइट हाेगी। इसमें इंडियन आइडियल

फेम सलमान अली रंगारंग प्रस्तुति देंगे।
मत्स्य उत्सव के दूसरे दिन के कार्यक्रमाें की शुरुआत सुबह साइकिल रैली से हुई। नेहरू पार्क से हरी झंडी दिखाकर साइकिल रैली रवाना की गई। रैली प्रमुख मार्गाें से हाेकर महल चाैक पहुंचकर संपन्न हुई। महल चाैक में साइकिल सवाराें ने करतब दिखाए। रैली में स्कूली विद्यार्थी व अलवर पैडल ग्रुप के सदस्य शामिल हुए।

कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया व एसपी तेजस्वनी गाैतम ने भी साइकिल रैली में भाग लिया। इसके बाद इंदिरा गांधी स्टेडियम में कार्यक्रम की शुरुआत बीकानेर से आए अनिल बाेड़ा के शंखनाद से हुई। पुलिस बैंड ने बैंडवादन किया। ऊंट नृत्य का प्रदर्शन किया गया। लाेक कलाकार गफरुदीन ने भपंग वादन की प्रस्तुति दी। काेटा के लाेक कलाकाराें ने सहारिया नृत्य की प्रस्तुति दी।

अजमेर के पुष्कर से आए सेंड आर्टिस्ट अजय रावत ने रेत से मूसी महारानी की छतरी की कलाकृति बनाई। कार्यक्रम में आए लाेगाें ने पैरासेलिंग, क्लाबिंग व राउंड बाॅल का आनंद लिया। परंपरागत खेल रस्साकसी, कबड्डी व खाे-खाे का भी आयाेजन हुआ। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि एसपी तेजस्वनी गाैतम थी।

संचालन धर्मवीर पाराशर ने किया।
दाेपहर काे सागर जलाशय में पैडल बाेट रेस का आयाेजन हुआ। 55 सैकंड में बाेट रेस पूरी कर कप्तान व अमित ग्रुप प्रथम स्थान पर रहा। दिलीप और अजय पटेल के ग्रुप ने दूसरा स्थान हासिल किया। कार्तिक व मुकेश एवं राजकुमार गुर्जर व लाेकेश खंडेलवाल का ग्रुप संयुक्त रूप से तृतीय स्थान पर रहा। प्रतियाेगिता में 20 प्रतिभागियाें ने भाग लिया। एक बार में दाे नावाें में दाे-दाे प्रतिभागियाें ने भाग लिया।

कुल 5 राउंड हुए। कार्यक्रम की अतिथि एडीएम सिटी सुनीता पंकज, एडीएम द्वितीय वंदना खाेरवाल व सहायक पर्यटन निदेशक डाॅ. टीना यादव ने विजेताओं काे पुरस्कार दिए। शाम काे सागर जलाशय पर दीपदान हुआ। इस दाैरान गायत्री परिवार की ओर से करीब 3100 दीपक जलाए गए। सागर पर दीपकाें से मत्स्य उत्सव अाैर स्वास्तिक चिह्न बनाया गया। सागर जलाशय के चाराें ओर तथा छतरियाें पर दीपक जलाए गए।

इस दाैरान मूसी महारानी की छतरी पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयाेजन हुआ। इसमें बारां जिले के लाेक कलाकार एसबी गुजरावत ग्रुप, टाेंक जिले के रामप्रसाद ग्रुप ने कच्ची घाेड़ी नृत्य की मनमाेहक प्रस्तुति दी। बीकानेर से आए अनिल बाेड़ा ने मुंह में तलवार रखकर करतब दिखाए। एक कलाकार ने अपनी सवा छह फीट लंबी मूंछ का प्रदर्शन कर दर्शकाें का मन माेह लिया। दर्शकाें ने इन कलाकाराें के साथ फाेटाे भी खिंचवाई।

गुरुवार शाम महल चाैक में आयाेजित रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रम में लाेक कलाकारों ने रंगारंग प्रस्तुति देकर दर्शकाें का मन माेह लिया। सबसे पहले कुंभलगढ़ से आए जीवनदास एंड ग्रुप ने तेरह ताली नृत्य की प्रस्तुति दी। अलवर के लाेक कलाकार मातादीन एंड ग्रुप ने चरी नृत्य की प्रस्तुति दी।

भपंग वादक युसुफ खां मेवाती ने भपंग की प्रस्तुति दी। स्वास्थ्य विभाग के माेहित ने गायन की प्रस्तुति दी। बारां जिले के छबड़ा से आए लाेक कलाकार मनभर के ग्रुप ने चकरी नृत्य की प्रस्तुति दी। अलवर के कलाकार बनेसिंह प्रजापत ने रिम भवई, जाेधपुर से आए रूपनाथ एंड ग्रुप ने कालबेलिया नृत्य और भरतपुर जिले के डीग से आए जितेंद्र पाराशर ने मयूर नृत्य की प्रस्तुति दी। फूलाें की हाेली के साथ सांस्कृतिक कार्यक्रम का समापन हुआ।

इसके बाद गणेश वंदना हुई। कार्यक्रम में अतिथि के रूप में जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया, एडीएम सिटी सुनीता पंकज, एडीएम द्वितीय वंदना खाेरवाल, नगर परिषद आयुक्त कमलेश कुमार मीणा, सहायक पर्यटन निदेशक डाॅ. टीना यादव उपस्थित रही।

मत्स्य उत्सव में आज हाेंगे ये कार्यक्रम
समय : सुबह 7 बजे मूसी महारानी की छतरी से बालाकिला तक ट्रैकिंग हाेगी।
समय : दाेपहर 1.30 बजे सिलीसेढ़ में सांस्कृतिक कार्यक्रम।
समय : शाम 7 बजे इंदिरागांधी स्टेडियम में म्यूजिकल नाइट हाेगी। इसमें इंडियन आइडल फेम सलमान अली रंगारंग प्रस्तुति देंगे।
आज भी संग्रहालय में मुफ्त प्रवेश
26 नवंबर काे सुबह 9.45 से शाम 4.30 बजे तक पर्यटकाें के लिए संग्रहालय में प्रवेश निशुल्क रहेगा।

खबरें और भी हैं...