कलेक्टर पहुंचे सेटेलाइट अस्पताल:प्रसूता के परिजन से पूछा-एंबुलेंस वाले ने कितने पैसे लिए

अलवर15 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिला कलेक्टर डाॅ. जितेन्द्र कुमार साेनी ने रविवार सुबह सेटेलाइट अस्पताल कालाकुआं का निरीक्षण किया। उन्हाेंने मरीजाें से बात की और सुविधाओं की जानकारी ली। कलेक्टर ने वार्ड में भर्ती प्रसूता कमलेश की परिजन बुजुर्ग महिला से पूछा कि अस्पताल तक आने में एंबुलेंस वाले काे कितने पैसे दिए ताे बाेली-बेटे से पूछकर बताती हूं? उसने तुरंत माेबाइल पर काॅल कर बेटे से कहा कि कलेक्टर साब आए हैं

और पूछ रहे हैं कि जब अस्पताल आए, तब पैसा कितना लगा? लेकिन बेटे से बात नहीं हाे पाई ताे कलेक्टर ने अधिकारियाें से पता कर बताने काे कहा। कलेक्टर काे ताे शाम तक जवाब नहीं मिला, लेकिन दैनिक भास्कर ने पड़ताल की ताे पता चला कि प्रसूता पहाड़ी भरतपुर के डहर बडाेली गांव की रहने वाली है और वे प्राइवेट एंबुलेंस से 10 रुपए प्रति किलाेमीटर की दर से अलवर पहुंचे।

जबकि जननी सुरक्षा याेजना में निजी वाहन की 25 किलाेमीटर से अधिक पर निर्धारित दर 9 रुपए प्रति किलाेमीटर के हिसाब से भुगतान किया जाता है। कलेक्टर ने ओपीडी, दवा वितरण केन्द्र, लैब व वार्डाें का भी निरीक्षण किया। उन्हाेंने कहा कि यहां महिला अस्पताल से अच्छे इंतजाम हैं। इससे पहले कलेक्टर ने सेटेलाइट अस्पताल में बच्ची अनन्या जैन काे पाेलियाे की खुराक पिलाकर पल्स पाेलियाे अभियान की शुरुआत की।

खबरें और भी हैं...