पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • At The Bus Stand Of Gothda Village Of Tijara, Where The Cylinder Caught Fire, Bottles Filled With Petrol Were Kept At The Shops Next To It.

सिलेंडर में आग, पास ही रखी थी पेट्रोल की बोतलें:बस स्टैंड पर चाय की दुकान में रखे सिलेंडर में लगी आग, बगल की दुकानों पर पेट्रोल से भरी बोतले रखी थीं; बड़ा हादसा टला

अलवर6 दिन पहले
गाेठड़ा गांव में रोड पर जलता सिलेंडर।

अलवर में तिजारा के गोठड़ा गांव में बड़ा हादसा होते-होते बच गया। बस स्टैण्ड पर गुरुवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे हरीराम की चाय की दुकान पर रखें गैस सिलेंडर में आग लग गई। आग नहीं बुझी तो दुकानदार ने सिलेंडर को रोड पर पटक दिया। इसके बाद भी आग नहीं बुझी। लेकिन बगल की दुकानों पर पेट्रोल की बोतलें भरी रखी थी। यह देख दुकानदार दुकानों के शटर डाउन कर दूर चले गए। दोनों तरफ के रो को रोक दिया। टैंट की मैट डाल आग पर काबू तो पा लिया गया। अगर सिलेंडर फटता तो पेट्राल की बोतलें आग पकड़ सकती थी। इससे बड़ा हादसा हो सकता था। आगे बुझाने के बाद गैस कंपनी के प्रतिनिधि भी मौके पर पहुंचे।

सिलेंडर में आग के दौरान दूर खड़े हो गए लोग।
सिलेंडर में आग के दौरान दूर खड़े हो गए लोग।

दुकानों के शटर डाउन, दोनों तरफ से रोड रोका
जैसे ही सिलेंडर में आगे लगी तो लोगों केा हादसे की आशंका लगी। बस स्टैंड के दुकानदार दुकानें बंद कर दूर खड़े हो गए। वहीं दोनों तरफ के रोड को बंद करा दिया। जिससे उधर से लोग नहीं निकले। फिर भी कुछ लोग बाइक से निकलते दिखे। कई दुकानों पर पेट्रोल से भरी बाेतलें आग के दौरान भी पास में ही रखी थी। यह देखकर बस स्टैंड के दुकानदार दुकानें बंद कर दूर खड़े गए गए। आग बुझाने के लिए मिट्टी का इंतजाम भी किया गया।

नशे में आए व्यक्ति ने आग बुझाई
बस स्टैंड के दुकानदारों ने बताया कि सिलेंडर में आग लगी थी। पास के टैंट हाउस की मैट को गीली कर आग बुझाने का प्रयास किया गया। शराब के नशे में एक व्यक्ति आया। जिसने हिम्मत दिखाते हुए गीली मैट सिलेंडर पर डाली। इसके कुछ देर बाद आग बुझ गई। कुछ ने बताया कि सिलेंडर में गैस कम थी इस कारण जल्दी बुझ गई।

जहां सिलेंडर में आग उसके बगल में पेट्रोल की बोतलें।
जहां सिलेंडर में आग उसके बगल में पेट्रोल की बोतलें।

पेट्रोल की बाेतलें जगह-जगह
अलवर जिले में पेट्रोल से भरी बोतलें जगह-जगह रखी हैं। अधिकतर गांवों में दुकानदार बोतलों में भरकर पेट्रोल बेचते हैं। यहां कभी भी आगजनी हुई तो ये पेट्रोल बड़ा विस्फोट कर जन हानि कर सकते हैं। जिसको लेकर प्रशासन को सख्त होने की जरूरत है। नियमों से परे जाकर पेट्रोल बेचने वाले दुकानदार भी जोखिम में हैं। वहीं कभी आगजनी हुई तो वहां के पड़ौसी भी चपेट में आ सकते हैं।

खबरें और भी हैं...