पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

पटरी पर लौटा उत्पादन:भिवाड़ी ने शुरुआती चार माह में ही सरकार को दिया 1373 करोड़ रुपए का टैक्स, यह पिछले साल से 83% अधिक है

अलवर/भिवाड़ी7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अब हम उत्पादन में कोरोना से पहले के स्तरों पर पहुंचने के करीब, खपत भी बढ़ रही। - Dainik Bhaskar
अब हम उत्पादन में कोरोना से पहले के स्तरों पर पहुंचने के करीब, खपत भी बढ़ रही।

कोरोना की दो लहरों के चलते उद्योगों में छाई सुस्ती अब छंटने लगी है। भिवाड़ी के उद्योगों ने वित्तीय वर्ष की शुरुआती चार माह में सरकार को 1373 करोड़ रुपए दे दिए। यह आंकड़ा पिछले साल के मुकाबले 83 फीसदी अधिक है। गत वर्ष तक 751 करोड़ रुपए की सरकार की झोली में डाले थे। आत्मनिर्भरता की ओर बढ़े कदमों के तहत अब उद्योग रफ्तार पकड़ने लगे है।

इस साल अप्रैल से जुलाई तक भिवाड़ी ने 812 करोड़ रुपए तो आईजीएसटी में ही दे दिए। वर्ष 2019-20 के शुरुआती चार माह में भिवाड़ी से 1518 करोड़ रुपए जीएसटी के रुप में दिए हैं। हालांकि इस साल अप्रैल माह में आई कोरोना की दूसरी लहर के चलते भिवाड़ी के उद्योग दो साल पूर्व के आंकड़े से कुछ पीछे रहा।

दिवाली को लेकर बढ़ी रफ्तार, दोगुने ऑर्डर आने लगे

ऑटोमोबाइल सेक्टर में वाहनों की अधिक बिक्री के चलते कंपनियों में दोगुने तक ऑर्डर आने लगे हैं। कमल वायर के पार्टनर प्रवीण लांबा के अनुसार वह एनसीआर में लगभग सभी दोपहिया और चार पहिया वाहनों के एयर फिल्टर पार्ट बनाते हैं। इस माह दोगुने तक ऑर्डर आए हैं। सीएनसी मशीनिंग के निदेशक सुशील राजपूत के अनुसार ऑर्डर में डेढ़ गुना तक बढ़ोतरी हुई है। मजदूरों की संख्या बढ़ाई जा रही है।

हम कोरोना से पहले की स्थिति के बिल्कुल समीप पहुंच गए हैं। दिवाली तक और जीएसटी बढ़ेगा। कंपनियां अपनी फुल रफ्तार से चल रही हैं। - सुधीर शर्मा, अतिरिक्त आयुक्त जीएसटी, अलवर

एक्सपर्ट बोले - अभी बाजार में और उछाल आएगा

जीएसटी विशेषज्ञ सीए सौम्य शर्मा के अनुसार कोरोना के बाद लगातार बाजार बढ़ रहा है। कंपनियों ने भी कोरोना के साथ काम करना सीख लिया है। सबसे बड़ी बात हम कई चीजों में आत्मनिर्भर हुए हैं। ऑटोमोबाइल और फॉर्मा में बहुत बड़ा उछाल आया है। प्लास्टिक में भी हम काफी आगे निकल गए हैं। कंपनियों में उत्पादन बढ़ने से रोजगार भी बढ़ने लगे हैं। इस दिवाली तक बाजार में और उछाल आएगा।

खबरें और भी हैं...