• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Called The People Of The Community, Said The Intention Of The Minister Behind Sending The Police To Haji's House At Night

मंत्री के खिलाफ उतरे लोग:बोले- हाजी के घर रात को पुलिस भेजने के पीछे उप प्रधान चुनाव की राजनीति

अलवरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
मेव समाज के प्रतिनिधि। - Dainik Bhaskar
मेव समाज के प्रतिनिधि।

अलवर ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के भाखेड़ा गांव निवासी हाजी शौकीना के घर पुलिस के पहुंचने के मामले में मेव समाज ने श्रम राज्यमंत्री टीकाराम जूली के खिलाफ नाराजगी जताई है। मेव समाज के प्रतिनिधियों ने मंत्री पर आरोप लगाया कि उनके कहने पर हाजी के घर जानबूझकर पुलिस भेजकर सवाल खड़े किए गए। जबकि हाजी के खिलाफ कोई मुकदमा दर्ज नहीं है। फिर भी रात को उनके घर पुलिस पहुंची। यह सब उप प्रधान के चुनाव की राजनीति के कारण हुआ है। जो गलत है।

राजनीतिक मसले में नेता ही शामिल
हाजी के घर पर राजनीतिकवश पुलिस भेजी गई है। जबकि भाखेड़ा के हाजी समाज के कार्यों में सबसे आगे रहते हैं। उप प्रधान के चुनाव में हाजी साहब अपनी विचारधारा के अनुसार कार्य किया। बस उसी बात को लेकर मंत्री के कहने पर उनके घर पुलिस भेजी गई। ताकि वे परेशान हों। समाज में हाजी पर सवाल खड़े हों। इस कारण समाज के लोगों मे नाराजगी है। सब एक जगह एकत्रित हुए हैं। अब कौम ही मिलकर निर्णय करेगी।
प्रधान व काजी ने भी जताया विरोध
पूर्व मंत्री नसरू खां व गफूर खां ने कहा कि मंत्री के कहने पर पुलिस हाजी के घर पहुंची है। इस बात से समाज में नाराजगी है। रात को 11 बजे पुलिस पहुंची है। जबकि उनके खिलाफ कोई मुकदमा भी दर्ज नहीं है। यह राठौड़ी कार्रवाई है। हाजी के अनुसार इस कार्रवाई में श्रम मंत्री की भूमिका है। प्रधान नसरू खां ने कहा कि हाजी हमारी कौम के जिम्मेदार व्यक्ति हैं। इनके लड़के के साथ अन्याय हुआ। सवाल यह है कि रात को हाजी के घर पुलिस भेजना सही नहीं है। इसी बात को लेकर कौम के बीच में चर्चा हो रही है। दो दिन पहले ही हाजी के घर पुलिस पहुंची थी।