• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Collector Inaugurated The Program, Said In The Government Meetings, The Problems Of Ex servicemen Will Be Included In The Main Agenda

वीरांगनाओं का हुआ सम्मान:कलेक्टर ने किया कार्यक्रम का शुभारंभ, बोले सरकारी बैठकाें में पूर्व सैनिकाें की समस्याओं काे मुख्य एजेंडे में शामिल करेंगे

अलवरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कार्यक्रम में वीरांगना का सम्मान करते कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया। - Dainik Bhaskar
कार्यक्रम में वीरांगना का सम्मान करते कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया।
  • ,

देश के विकास व रक्षा में तीनाें सेनाओं का महत्वपूर्ण स्थान है। इसके लिए सशस्त्र सेना झंडा दिवस का संदेश जन-जन तक पहुंचना जरूरी है। इसके लिए सभी का सहयाेग आवश्यक है। यह बात कलेक्टर नन्नूमल पहाडिया ने मंगलवार को जिला सैनिक कल्याण अधिकारी कार्यालय में सशस्त्र झण्डा दिवस कार्यक्रम के शुभारम्भ पर वहां उपस्थित शहीद सैनिकों की वीरांगनाओं को संबोधित करते हुए कही।

उन्होंने कहा कि सैनिक, पूर्व सैनिक एवं उनकी वीरांगनाओं के कल्याण व सहायता के लिए केन्द्र व राज्य सरकार द्वारा डिफेन्स कमेटी का गठन कर फण्ड की स्थापना की है। यह कदम पूर्व सैनिक व सैनिकों के लिए महत्वपूर्ण है। इसके तहत शिक्षा, विवाह सहायता व नॉन पेंशनरों को वित्तीय सहायता मिल सकेगी। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन, नगर परिषद व जिला परिषद की आयोजित होने वाली बैठकों में पूर्व सैनिकों व सैनिकों की समस्याओं के निदान के लिए इसे प्रमुख एजेन्डे में शामिल किया जाएगा।

समय-समय पर विभागवार समीक्षा भी की जाएगी ताकि उन्हें समय पर राहत मिल सके। कलेक्टर ने वीरांगना आशा देवी व कस्तूरी देवी, हवलदार अमर सिंह व सुल्तान सिंह को शॉल ओढ़ाया। उन्हाेंने सशस्त्र झण्डा दिवस पर धन राशि भी भेंट की। इस अवसर पर जिला सैनिक कल्याण अधिकारी बहरोड़ कमान्डर शिवराम वर्मा ने सशस्त्र झण्डा दिवस की महत्ता पर प्रकाश डाला।

कार्यक्रम में जिला सैनिक कल्याण अधिकारी अलवर शैलेन्द्र सिंह सहित रिटायर्ड कर्नल अशोक कुमार यादव, कर्नल सुनील दत शर्मा, सूबेदार गंगादत यादव, हवलदार अमर सिंह, सूबेदार बलवीर, शीशराम, सुबेदार जेपी शर्मा तथा पूर्व सैनिक एवं उनकी वीरांगनाएं एवं सेना के रिटायर्ड अधिकारी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...