पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुस्त कार्रवाई:पुलिस चौकी के सामने चल रही थी शर्तिया इलाज की दुकान, अफसरों ने कार्रवाई करने में लगा दिए 6 माह

भिवाड़ी20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
फाइल फोटो - Dainik Bhaskar
फाइल फोटो
  • क्लिनिक पर चिकित्सकीय अभ्यास की कोई डिग्री या आवश्यक दस्तावेज नहीं मिले
  • इलाज के उपकरण व दवाएं भी मिली हैं, जिन्हें जब्त किया गया

भिवाड़ी मोड़ पुलिस चौकी के सामने चल रही एक फर्जी डॉक्टर की नामी दुकान के खिलाफ कार्रवाई करने में जिम्मेदारों को शिकायत के बाद भी छह महीने लग गए। झोलाझाप के शर्तियां इलाज के दावों के झांसे में आकर एक महिला मरीज ने 17 हजार रुपए गंवा दिए और उसका मर्ज भी बढ़ गया। पीडि़त ने परेशान होकर राजस्थान संपर्क पोर्टल पर शिकायत की, छह माह बाद जाकर अब जिम्मेदारों को कार्रवाई की सुध आई।

मंगलवार को चिकित्सा विभाग की टीम पुलिस के साथ यहां पहुंची। जिन्हें क्लिनिक पर चिकित्सकीय अभ्यास की कोई डिग्री या आवश्यक दस्तावेज नहीं मिले। आरोपी झोलाझाप के खिलाफ फूलबाग थाने में लोगों की जीवन के साथ खिलवाड़ करने और गैरकानूनी तरीके से चिकित्सकीय अभ्यास करने का मामला दर्ज कराया गया है। क्लिनिक से इलाज के उपकरण व दवाएं भी मिली हैं, जिन्हें जब्त किया गया है। भिवाड़ी मोड़ पर डॉ. साहिल चर्म रोग व यौन रोग विशेषज्ञ के नाम से एक झोलाझाप पिछले कई सालों से अपनी दुकान चला रहा है। मंगलवार को यहां फूलबाग पुलिस के साथ सीएमएचओ के निर्देश पर औषधि नियंत्रक अलवर लोकेश बैरवा व भिवाड़ी सीएचसी प्रभारी डॉ. केके शर्मा पहुंचे। जांच में पाया गया कि क्लिनिक का संचालक आधुनिक चिकित्सा पद्धति से चिकित्सा अभ्यास करता है। लेकिन वह स्वयं की डिग्री या अन्य आवश्यक दस्तावेज पेश नहीं कर सका।

संचालक बिना किसी पंजीकरण के मेडिकल प्रैक्टिस कर रहा था। मौके पर टीम को इलाज के उपकरण सहित दवाएं भी मिली। जिन्हें जब्त किया गया है। मौके पर मिले तथाकथित डॉ. जाहिद पुत्र अब्दुल सलाम निवासी जलालपुर थाना नगीना हरियाणा हाल वार्ड नंबर 8 तावडू के खिलाफ बिना किसी पंजीकरण के चिकित्सा अभ्यास करने व आमजन के जीवन को खतरे में डालने को लेकर सीएचसी प्रभारी की ओर से फूलबाग थाने में मामला दर्ज कराया गया है।

खबरें और भी हैं...