पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

धूमधाम से मनाई लाेहड़ी:ढाेल की थाप पर गीत गाते हुए किया डांस

अलवर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सामूहिक रूप से भी मनाया गया लाेहड़ी पर्व, मूंगफली व रेवड़ी का प्रसाद बांटा

पंजाबी समुदाय की ओर से बुधवार काे लाेहड़ी का पर्व उत्साह के साथ मनाया गया। काॅलाेनी व माेहल्लाें में सामूहिक रूप से लाेहड़ी मनाई गई। शहर में स्कीम नंबर दाे, हिंदूपाड़ा, दारुकूटा माेहल्ला, नवाबपुरा माेहल्ला सहित अन्य जगह पंजाबी और सिख परिवाराें ने सामूहिक रूप से लाेहड़ी मनाई।

लाेहड़ी काे लेकर युवाओं में उत्साह देखा गया। शाम काे अग्नि प्रज्जवलित कर लाेहड़ी की परिक्रमा की गई। इस दाैरान ढाेल की थाप पर गीत गाए गए। गजक, रेवड़ी, मूंगफली व पाॅपकाॅर्न का लाेहड़ी काे भाेग लगाकर प्रसाद बांटा गया। पुरुषाें ने ढाेल की थाप पर भंगड़ा किया, वहीं महिलाओं ने गिद्दा डांस किया। जिन पंजाबी और सिख परिवार में बेटे की शादी हुई या बच्चे हुए, उनके यहां खासताैर से लाेहड़ी की खुशियां मनाई गई।

पंजाबी वेलफेयर साेसायटी के अध्यक्ष दीवान चंद सेतिया ने बताया कि साेसायटी की ओर से स्कीम दाे स्थित पुरुषार्थी धर्मशाला में लाेहड़ी मनाई गई। सामूहिक रूप से अग्नि प्रज्जवलित कर रेवड़ी, तिल, मूंगफली अग्नि काे समर्पित कर अग्नि की परिक्रमा कर पूजा अर्चना की। नवविवाहित जाेड़ाें ने आहूति देते हुए सुखी दांपत्य जीवन की कामना की और गीत गए। सभी ने एक दूसरे काे बधाई दी।

वरिष्ठ नागरिक गृह में ढाेल की थाप पर किया डांस
लिवारी स्थित गुरुनानक आसरा वरिष्ठ नागरिक गृह में भी धूमधाम से लाेहड़ी का पर्व मनाया गया। वहां रह रहे वरिष्ठ नागरिकाें ने ढाेल की थाप पर भंगड़ा किया। इससे पहले लाेहड़ी प्रज्ज्वलित कर परिक्रमा की गई और लाेहड़ी काे मूंगफली, पाॅपकाॅर्न, गजक, रेवड़ी का भाेग लगाया गया। इस गृह में विभिन्न समुदाय के लाेग रह रहे हैं। वहां पहली बार लाेहड़ी का पर्व मनाया गया।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- व्यस्तता के बावजूद आप अपने घर परिवार की खुशियों के लिए भी समय निकालेंगे। घर की देखरेख से संबंधित कुछ गतिविधियां होंगी। इस समय अपनी कार्य क्षमता पर पूर्ण विश्वास रखकर अपनी योजनाओं को कार्य रूप...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser