पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • DEO Said There Is A Small Difference Between The Post Of Me And The CDEO, The CDEO Said This Indecent Behavior, Served Notice

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

स्कूलें खुलने से पहले अफसरों के बीच खींचतान:डीईओ ने कहा-मेरे व सीडीईओ के पद में छोटा सा अंतर है, सीडीईओ बोले-ये अमर्यादित आचरण, नोटिस थमाया

अलवर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

स्कूल अभी खुले नहीं हैं, लेकिन मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी वीरेंद्र यादव और जिला शिक्षा अधिकारी राकेशा शर्मा के बीच खींचतान शुरू हो गई है। सीडीईओ ने करीब 5 बिंदुओं पर डीईओ की लापरवाही तय करते हुए उन्हें कारण बताओ नोटिस थमाकर जवाब मांगा है।

डीईओ का कहना है कि सीडीईओ जानबूझकर काम में बाधा पहुंचा रहे हैं और पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर डिस्टरबेंस कर रहे हैं। यह उच्चाधिकारियों को बताया जाएगा। इधर, सीडीईओ का कहना है कि नोटिस देना विभागीय प्रक्रिया है, इसमें आप क्यों सोच रहे हैं? मामला कुछ भी हो, लेकिन लंबे समय बाद खुलने जा रहे स्कूलों के खुलने से पहले ही अधिकारियों का यूं आमने-सामने होना क्या संदेश देगा? यही नहीं इसका सीधा असर स्कूलों की मॉनिटरिंग पर भी पड़ सकता है।

खींचतान की पूरी वजह जानिए विस्तार से...
सीडीईओ वीरेंद्र यादव ने डीईओ राकेश शर्मा को दिए कारण बताओ नोटिस में कहा है कि 8 जनवरी को वीसी के बाद निर्देशित कर दिया था कि जिला स्तरीय वीसी की कार्यवाही डीईओ कराएंगे, लेकिन डीईओ ने इस महत्वपूर्ण कार्य को यह कहकर इंकार कर दिया कि यह कार्य सीडीईओ कार्यालय का है।

यही नहीं, सहायक निदेशक के.एल. धावरिया ने 8 जनवरी को पत्रावली तैयार की और मेरे साथ व प्रिंसिपल मनोज शर्मा के साथ रात 7.30 बजे तक कलेक्ट्रेट में रहे, लेकिन कलेक्टर के बाहर होने के कारण वीसी का समय नहीं मिला। इस दौरान आप अपने घर आराम करते रहे जबकि यह दायित्व आपको सौंपा गया था।

आप 9 जनवरी को भी अवकाश का उपभाेग करते रहे और पदीय दायित्वों के प्रति उदासीन रहे। 9 जनवरी को मैंने वीसी आयोजन का अनुमोदन प्राप्त कर लिया और इसके बाद आपको दुबारा निर्देश दिए, लेकिन आप इस समय भी उदासीन रहे और कोई परवाह नहीं की और न ही कोई रिपोर्ट प्रस्तुत की।

व्यक्तिगत संपर्क कर वीसी आयोजन का समय तय कर लिया गया लेकिन वीसी के बाद भी आपने मीटिंग कार्यवाही का प्रतिवेदन तैयार नहीं करवाया और अपने कार्यालय से एक झूठा पत्र भिजवा दिया जो राजकार्य में लापरवाही को दर्शाता है। यह बेहत गंभीर है और इससे राज्य कार्य बाधित हुआ है। इन सभी का कारण बताएं कि ऐसा क्यों किया?

सीडीईओ ने लिखा-आपकाे आदेश दिया जाता है आप मुझे ही निर्देश देने लग जाते हैं
मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी वीरेंद्र यादव ने अपने नोटिस में यह भी कहा कि जब भी आपको कोई आदेश दिया जाता है बजाए अनुपालना करने के आप मुझे ही ये निर्देश देने लग जाते हैं कि यह कार्य तो आपके कार्यालय का है। फोन पर भी आप मुझे निर्देश देते हैं आपके पद और मेरे पद में छोटा सा ही अंतर है। ऐसा अमर्यादित आचरण आपके पदीय दायित्व के विरुद्ध है। इससे विभागीय आदेश व योजनाओं की पालना बाधित हो रही है। आप दो दिन में अपना स्पष्टीकरण दें अन्यथा उच्चाधिकारियों को अनुशासनात्मक कार्रवाई का प्रस्ताव भेज दिया जाएगा।

^यह तो सामान्य विभागीय प्रक्रिया है। नोटिस देना आपस की बात है। इसमें अखबार की कोई बात ही नहीं है। कोई बात नहीं, उन्होंने यदि कह दिया तो आप इतना क्यों कर रहे हो?
-वीरेंद्र यादव, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी

^वीसी सही समय पर करवा दी थी। सब कुछ अच्छा हो गया। सीडीईओ पूर्वाग्रह से ग्रसित होकर ऐसा करते हैं। पहले भी कई बार नोटिस दे चुके हैं। जबकि हम अपना दायित्व अच्छे से निभा रहे हैं। ये हमको कार्य करने में बार-बार बाधा पैदा करते और परेशान करते हैं। इससे मनोबल गिरता है। कई बार ये जब ऐसे ही झाड़ते हैं तो मैंने कह दिया कि हम कोई फोर्थ क्लास थोड़े ही हैं। एक ही स्टेप तो छोटा हूं। हम तो इंस्पायर अवार्ड में भी देश में दूसरे स्थान पर रहे हैं।
-राकेश शर्मा, जिला शिक्षा अधिकारी, माध्यमिक

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser