150 फीट गहरी खदान ढही, पत्थरों में दबा ड्राइवर:जेसीबी से तोड़ रहे थे पत्थर, अचानक ऊपरी हिस्सा गिरा, 2 घंटे के रेस्क्यू में निकाला शव

अलवर7 महीने पहले

अलवर में 150 फीट गहरी खदान का एक हिस्सा ढह गया। खदान में जेसीबी सहित ड्राइवर दब गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने 2 घंटे की मशक्कत के बाद ड्राइवर के शव को बाहर निकाला। बताया जा रहा है कि यहां अवैध खनन किया जा रहा था।

दरअसल, टहला में खोह क्षेत्र में गोरखी खान है। यहां मंगलवार सुबह ड्राइवर मदन जेसीबी की मदद से पत्थरों को तोड़ने का कार्य कर रहा था। इसी दौरान अचानक खान का हिस्सा ऊपर से ढह गया। पत्थर ढहने से जेसीबी समेत ड्राइवर इसमें दब गया। मौके पर एक डंपर भी था, जो भी इन पत्थर में दब गया। सूचना मिलने पर पुलिस व माइनिंग डिपार्टमेंट के अधिकारी मौके पर पहुंचे और रेस्क्यू शुरू किया।

हादसे के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया। इस हादसे में डंपर भी पत्थरों के नीचे दबने से क्षतिग्रस्त हो गया।
हादसे के बाद रेस्क्यू ऑपरेशन शुरू किया गया। इस हादसे में डंपर भी पत्थरों के नीचे दबने से क्षतिग्रस्त हो गया।

माइनिंग डिपार्टमेंट की लापरवाही
जानकारी के अनुसार इस मामले में माइनिंग डिपार्टमेंट की भी बड़ी लापरवाही सामने आ रही है। खान जमीन से करीब 150 फीट तक गहरी हो चुकी है। यह भी बताया जा रहा है कि यहां खनन के दायरे से बाहर अवैध खनन किया जा रहा था। खनन में कोई सेफ्टी उपकरणों का उपयोग नहीं हो रहा था। अब माइनिंग डिपार्टमेंट के अधिकारी हर पहलुओं की जांच करेंगे।

खान ढहने के बाद ग्रामीणों की भीड़ मौके पर जुट गई। मामले में माइनिंग डिपार्टमेंट की भी बड़ी लापरवाही सामने आ रही है।
खान ढहने के बाद ग्रामीणों की भीड़ मौके पर जुट गई। मामले में माइनिंग डिपार्टमेंट की भी बड़ी लापरवाही सामने आ रही है।

सैकड़ों लोगों की भीड़ जुटी
खान ढहने की सूचना मिलने के बाद सैकड़ों लोगों की भीड़ जुट गई। पुलिस प्रशासन के अधिकारी भी पहुंच गए। खनन को लेकर कई तरह की बातें सामने आ रही हैं। इस क्षेत्र को धोली खान के नाम से भी जाना जाता है।

कंटेंट-फोटो: शंभू दयाल व्यास, टहला