दिव्यांग विवाहिता की मौत पर ससुराल-पीहर का आरोप-प्रत्यारोप:पिता बोला- मेरी बेटी विकलांग, फांसी नहीं लगा सकती, ये दहेज हत्या

अलवर2 महीने पहले
मृतका रफीकन।

अलवर शहर के निकट MIA थाना क्षेत्र के साहडोली के सहमत का बास में 27 साल की दिव्यांग महिला की महिला की मौत के मामले में दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज हुआ है। ससुराल पक्ष ने कहा कि बहू ने खुद ने फांसी लगा ली। जबकि पिता ने कहा कि मेरी बेटी विकलांग है, फांसी नहीं लगा सकती।

पीहर पक्ष ने ससुराल पक्ष पर आरोप लगाया। पीहर पक्ष से पिता ने कहा कि उनकी बेटी की दहेज के लिए हत्या की गई है। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सुपुर्द कर दिया।

3 साल पहले हुई थी शादी
मृतका रफीकन के पिता हुसैन खान ने मुकदमा दर्ज कराया कि बेटी रफीकन की शादी 3 वर्ष पूर्व 7 अप्रैल 2019 को साहडोली गांव के सहमत का बास निवासी शमीन के साथ की थी।शमीन ड्राइवर है। ससुराल पक्ष के लोग लगातार दहेज में बोलेरो व 5 लाख हजार रुपए का दबाव बनाकर बेटी से आए दिन मारपीट करते थे। जिसके कारण बेटी आए दिन पीहर आती थी। बार-बार मारपीट करने से वह मानसिक रूप से परेशान हो चुकी थी।

कई बार समझाइश कर ससुराल भेजा
पीहर पक्ष के लोगों ने बताया कि बेटी कई बार सुसराल से पीहर आई। जिसे समझाइश कर वापस ससुराल भेजा गया। अब अचानक पता लगा कि रफीकन की मौत हो गई। इसके बाद पीहर पक्ष में दहेज हत्या का मुकदमा दर्ज कराया है। इस मामले में DSP कमल प्रसाद ने बताया रफीकन के दो बच्चे हैं। पिता की रिपोर्ट के बाद मुकदमा दर्ज कर लिया है। घटनास्थल पर FSL की टीम जांच में लगी है।