जनता के साथ विश्वासघात करने वाले पकड़ाए:कबाड़ के मीटर लगाकर अवैध वसूली के मामले में 16 महीने बाद पहली गिरफ्तारी

अलवरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
यह मामला 14 अगस्त 2020 का है। - Dainik Bhaskar
यह मामला 14 अगस्त 2020 का है।

कबाड़ के मीटरों काे अवैध रूप से अरावली विहार सेक्टर 9 और दस में लगाने के आराेप में विद्युत चाेरी निरोधक थाना बहराेड़ ने तकनीकी सहायक राजू काे गिरफ्तार किया है। राजू उक्त क्षेत्र स्थित फीडर का इंचार्ज था। यह मामला 14 अगस्त 2020 का है। निगम कर्मचारियों ने मिलीभगत से कबाड़ के मीटरों काे अरावली विहार सेक्टर में अवैध रूप से लगाकर महीने दारी लेना शुरू कर दिया था।

कर्मचारियों ने निगम के समानांतर ही मीटर बांटना शुरू कर दिया था। 46 फ्लैटों में अवैध रूप से मीटर लगाकर महीने पर लाखाें रुपए का लेनदेन का खुलासा हुआ था। खराब मीटर काे उपभोक्ता के यहां से उतारने के बाद निगम में जमा कराने की जगह जीएसएस पर स्टाेर किया जाता था। वहां से आवेदन करने वाले आवेदक के यहां ये मीटर अवैध रूप से लगाकर महीने पर पैसा वसूला जाता था। मासिक बंधी का खेल शुरू हाेने की वजह से आवेदकों के यहां मीटर कनेक्शन करने में जान बूझकर देरी की गई थी।

जबकि निगम के नियमानुसार खराब मीटरों काे उपखंड कार्यालय में जमा कराकर मुख्यालय काे भेजा जाता है। एक- एक उपभोक्ता से महीने पर दाे हजार रुपए तक लिए जाते थे। इस मामले की भनक लगने पर दैनिक भास्कर ने 15 अगस्त 2020 काे घराें में कबाड़ हुए मीटर लगा हर महीने पैसा खुद रख रहे थे। निगम कर्मी, 46 मीटर जब्त शीर्षक से खुलासा किया था। इस संबंध में सहायक अभियंता कमल वर्मा ने मामला दर्ज कराया था।

खबरें और भी हैं...