पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • If The Patient Admitted In AIIMS Bhopal Did Not Get The Injection, Then Actor Sonu Sood From Mumbai Spoke To Rajasthan's Labor Minister Tikaram Julie, Thanked Sood If The Patient Got The Injection

मरीज भोपाल में, सोनू सूद ने राजस्थान से मदद मांगी:भोपाल के एम्स में भर्ती मरीज को इंजेक्शन नहीं मिला, मुंबई से एक्टर सोनू सूद ने राजस्थान के श्रम मंत्री टीकाराम जूली से बात की; फिर पहुंची मदद

अलवर23 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
वीडियो कॉलिंग पर बातचीत करते सोनू सूद व श्रम राज्य मंत्री टीकाराम जूली। - Dainik Bhaskar
वीडियो कॉलिंग पर बातचीत करते सोनू सूद व श्रम राज्य मंत्री टीकाराम जूली।

भोपाल में मरीज, मुम्बई से अपील, राजस्थान से मदद मुंबई के एक्टर सोनू सूद कोरोना महामारी में मरीजों की मदद करने में सबसे आगे दिखे हैं। कुछ दिन पहले जोधपुर में मरीज को ब्लैक फंगस इंजेक्शन भिजवाए। अब भोपाल के एम्स में भर्ती मरीज को इंजेक्शन उपलब्ध कराने के लिए राजस्थान सरकार के श्रम राज्य मंत्री टीकाराम जूली से बात की। जूली ने एम्स में भर्ती मरीज को जीवन रक्षक इंजेक्शन उपलब्ध कराया।

इसके बाद रविवार को वापस सोनू सूद वीडियो कॉल आया। श्रम मंत्री को धन्यवाद दिया। दाेनों की करीब पांच मिनट बात हुई। जूली ने सूद को धन्यवाद दिया कि इस महामारी में आपस दिन रात लगे हुए हैं। पूरे देश भर में जरूरमंदों की मदद करने में लगे हैं।

तीन दिन में तीन बार बात हुई

श्रम राज्य मंत्री जूली ने बताया कि सूद से तीन दिन में तीन बार बात हुई है। पहली बार अलवर निवासी डॉ विशाल कौशिक के जरिए बात हुई। तब सोनू सूद ने बताया कि भोपाल में एम्स में एक मरीज भर्ती है। उसे इंजेक्शन की जरूरत है। यहां मिल नहीं पा रहा है। मरीज के परिजन परेशान हैं। संभव हो मदद करें। इसके बाद जूली ने अपने प्रयासों से भोपाल में ही इंजेक्शन का इंतजाम कराया गया। जब मरीज के परिजन को इंजेक्शन मिला। मरीज को इंजेक्शन लगा तो अगले दिन भी सोनू सूद की श्रम मंत्री से बात हुई। इसके बाद रविवार को वापस सोनू सूद को जूली के पास फोन आया। दोनों ने एक दूसरे को धन्यवाद दिया।

सूद ने कहा ऐसे ही मदद करें

सोनू सूद ने श्रम मंत्री से कहा कि आप भविष्य में भी जनता की यूं ही मदद करते रहें। महामारी में दौर में किसी की जान बच जाए। उससे बड़ा कोई काम नहीं है। सरकारें भी इसी प्रयास में लगी हुई है। एक-दूसरे से की मदद से काफी बड़े काम हो जाते हैं। किसी की जान से बड़ा उसके लिए कुछ नहीं है। उस परिवार की दुआएं हमारे साथ हैं। हम सब मिलकर इस काम को यूं ही करते रहें। साथ में आमजन को जागरूक भी करना जरूरी है। ताकि महामारी को मात दी जा सके।

खबरें और भी हैं...