• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Kota
  • In Bharatmala Project Bribery Case, ACB Recommended SDM Deepak Mittal's Supervisory Negligence Mann 16 CCA Action

भारतमाला परियोजना घूसकांड:भारतमाला प्रोजेक्ट घूस प्रकरण में एसीबी ने एसडीएम दीपक मित्तल की सुपरवाइजरी नेग्लीजेंस मान 16 सीसीए कार्रवाई की सिफारिश की

कोटा16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
ठाकुर चंद्रशील। - Dainik Bhaskar
ठाकुर चंद्रशील।

भारतमाला परियोजना में जमीन के मुआवजे को लेकर हुए घूसकांड के मामले में एसीबी ने लाडपुरा के एसडीएम दीपक मित्तल के खिलाफ 16 सीसीए के तहत कार्रवाई की सिफारिश का निर्णय किया है। एसीबी के कार्यवाहक एसपी ठाकुर चंद्रशील ने गुरुवार को प्रेस काॅन्फ्रेंस में मीडिया को इसकी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि एसीबी ने सालभर पहले दलाल बलराम और एसडीएम के सूचना सहायक एकांत को 1 लाख की घूस लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया था।

मामले में एसीएम ऑफिस के सूचना सहायक को भी गिरफ्तार किया था। तीनों के साथ एफआईआर में एसडीएम दीपक मित्तल, तत्कालीन एसीएम बालकृष्ण तिवारी व नायब तहसीलदार विनय चतुर्वेदी की भूमिका को भी संदिग्ध मानते हुए नामजद किया था। उन्होंने तीनों गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र पेश कर दिया, जबकि तीनों अधिकारियों के खिलाफ जांच लंबित रखी थी।

लेकिन अब तीनों के खिलाफ आपराधिक साक्ष्य नहीं पाए जाने पर प्रकरण में एसीबी न्यायालय में क्लॉजर रिपोर्ट पेश कर दी है। लेकिन तीनों में से एक लाडपुरा एसडीएम की सुपरवाइजरी नेग्लीजेंस मानते हुए उनके खिलाफ एसीबी मुख्यालय ने विभागीय स्तर पर 16 सीसीए कार्रवाई की सिफारिश का निर्णय किया है।

एसीबी एसपी चंद्रशील ने बताया कि वर्ष 2021 में कोटा रेंज एसीबी ने 67 कार्रवाइयां की है। इस साल सबसे ज्यादा 25 कार्रवाइयां कोटा शहर चौकी ने की, जबकि कोटा देहात ने 13कार्रवाई की है। वर्ष 2021 में नए और पुराने मामलों में पूरी रेंज में 104 आरोपी गिरफ्तार किए गए हैं। कोटा शहर में 30, देहात में 18 आरोपी गिरफ्तार किए गए।

ये हुई प्रमुख कार्रवाईयां
भारत माला प्रोजेक्ट मुआवजे के मामले में 1 लाख की घूस लेने पर कोटा कलेक्ट्रेट में कार्रवाई की गई। {बूंदी के देई व महिला थाना तथा कोटा ग्रामीण के सांगोद थाने के एसएचओ को गिरफ्तार किया। रेलवे में सीनियर सेक्शन इंजीनियर को ठेकेदार से रिश्वत लेते पकड़ा। {सीएमएचओ ऑफिस के अकाउंट मैनेजर को गिरफ्तार किया। {सफाईकर्मियों की हाजिरी मामले में घूस लेने पर पार्षद कमल मीणा को गिरफ्तार किया। {परिवहन भवन जयपुर में कोटा की टीम ने सांख्यिकी अधिकारी को पकड़ा।

खबरें और भी हैं...