• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • In Protest Against Selling Illegal Liquor, The Young Man Was Kidnapped And Beaten For Several Hours, Then Scared And Recovered 8 Thousand Rupees, Made A False Video Of Liquor Theft.

शराब माफिया ने पीटा, पैसे लिए, फिर धमकाया:अवैध शराब बेचने के विरोध में युवक को अगवा कर उसकी कई घंटे तक पिटाई की, फिर डरा कर  8 हजार रुपए वसूले, शराब चोरी का झूठा वीडियो बनाया

अलवरएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
युवक पर शराब चोरी का झूठा केस बनाने के लिए फर्जी वीडियो बनवाया। - Dainik Bhaskar
युवक पर शराब चोरी का झूठा केस बनाने के लिए फर्जी वीडियो बनवाया।

अलवर जिले के ततारपुर में अवैध शराब ठेका खोलने का विरोध करना एक युवक को इतना भारी पड़ गया कि अब उससे चला भी नहीं जा रहा। शराब माफिया ने युवक को अगवा किया। फिर कई घंटे तक उसकी पिटाई की। इसके बाद अवैध शराब रखने का झूठा वीडियो बनाया। फिर उसे डार-धमका कर 8 हजार रुपए वसूले। मामला 31 अगस्त का है। थाने में 1 सितम्बर को रिपोर्ट दर्ज की गई। 2 सितम्बर की देर शाम को वीडियाे वायरल होने के बाद पुलिस हरकत में आई है। बानसूर के भूरियावास निवासी सुरेश पुत्र मतकूल बावरिया ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि 31 अगस्त की सुबह वह पत्नी के साथ खेतों से चारा लेने जा रहा था। रास्ते में तीन बाइकों पर दीनाराम पुत्र घासीराम, मनीष पुत्र हरिराम गुर्जर निवासी ताल, अजीत पुत्र सुबेसिंह यादव निवासी भूरयावास, कालूराम पुत्र फूलसिंह यादव, सतवीर गुर्जर निवासी बामनवास ने उन्हें रोक लिया। पत्नी को धक्का देकर उसका अपहरण कर ढाणी बावरियों में शराब के अवैध ठेके पर ले गए। यहां चुन्नी से बांधकर डंडों से उसकी बुरी तरह पिटाई की। उसे कहा कि तूने ढाणी में रखा हमारा शराब का खोखा हटाया था। अब तेरा इलाज करेंगे। जबकि असलियत में अवैध शराब का खोखा रखने का सब लोग विरोध कर रहे थे। जिससे अवैध शराब बेचे जाने और वहां बहन बेटियों के बेइज्जत होने का डर रहता है। इस कारण सबका विरोध था। लेकिन शराब माफिया के इन लोगों ने सुरेश को अगवा कर उसका पीट-पीट कर बुरा हाल कर दिया।

युवक के पैरों पर डण्डों के निशान।
युवक के पैरों पर डण्डों के निशान।

जबर्दस्ती वीडियो बनाए
इसके बाद हाथ बांधकर उससे शराब के ठेके पास गड्ढे से शराब निकलवाई और वीडियो बनाते हुए कहा कि अब तुझे ही अवैध शराब के केस में गिरफ्तार कराएंगे। आरोपियों ने उसे कहा कि घर से 30 हजार मंगवाकर हमारे नुकसान की भरपाई कर।

पीड़ित ने अपने भाई को फोन किया। उसने किसी से उधार लेकर आरोपियों को 8 हजार रुपए ऑनलाइन ट्रांसफर किए। शेष 22 हजार बाद में देने के वादे पर उसे छोड़ा। पीड़ित थाने पहुंचा तो वहां किसी ने सुनवाई ही नहीं की। वीडियो वायरल होने के 24 घंटे बाद मामला दर्ज किया।

मामले में अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है। मैं आज ही ततारपुर गया था। मामले की जांच में ततारपुर थाना क्षेत्र में जो शराब की अवैध ब्रांचें चल रही है मेरी जानकारी में नहीं है। अवैध ब्रांचों की जांच करवाकर हम उन पर कार्रवाई करेंगे।-अतुल अग्रे, पुलिस उपाधीक्षक किशनगढ़बास

ऑडियो में कहा- केस मत करना, पुलिस तो हमारे साथ है
घटना के बाद आरोपियों ने पैसे उधार देने वाले व्यक्ति को भी धमकाया। उसे कहा कि सुरेश को समझा दो, केस ना करे। नहीं तो हम उसके खिलाफ अवैध शराब की रिपोर्ट देंगे। पुलिस से हमारी बात हो गई है। हमारे ठेके में चोरी का आरोपी बनाएंगे। वहीं इस पूरे मामले में थाने का स्टाफ कुछ भी कहने से बच रहा है।

खबरें और भी हैं...