पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • In The Name Of Defense Academy, The Competition For The Race Competition Went Viral, A Fee Of 500 Rupees For Participating In The Race, The Youth Of Kanpur Phoned The Rupees

'सेना के शहर' में युवाओं से ठगी:अलवर में दौड़ प्रतियोगिता में बुलेट और लाखों के इनाम का दिया लालच, रजिस्ट्रेशन के नाम पर यूपी के लड़कों से 500-500 रुपए ठगे

अलवर6 महीने पहलेलेखक: धर्मेंद्र यादव
उत्तरप्रदेश के उन्नाव के ये युवक जिन्होंने अलवर में दौड़ के नाम पर राशि जमा करा दी।
  • अलवर में सेना भर्ती का कार्यालय है, यहां हर साल सेना बड़े स्तर पर भर्ती करती है
  • फर्जीवाड़ा करने वालों का बैंक खाता हरियाणा के फिरोजपुर का, उत्तर प्रदेश के लड़कों को ठगा

आपके फेसबुक या वाट्सअप पर अलवर के इंदिरा गांधी स्टेडिमय में गणतंत्र दिवस के दिन डिफेंस एकेडमी की ओर से दौड़ प्रतियोगिता कराने और मोटी इनाम राशि पाने के पर्चे वायरल हैं तो सावधान रहें। गलती से आप भी उत्तरप्रदेश के उन्नाव निवासी संदीप यादव, दीपक, कुलदीप व सूरज कुमार की तरह पर्चे पर दिए गए नम्बरों पर रजिस्ट्रशन शुल्क 500 रुपए जमा मत करा देना। यह सब फर्जीवाड़ा है। फिलहाल इस मामले में अब तक कोई केस दर्ज नहीं हुआ है।

26 जनवरी को अलवर के इंदिरा गांधी स्टेडियम में कोई ऐसी दौड़ प्रतियोगिता नहीं हैं। जिसके प्रथम विजेता को बुलेट, दूसरे विजेता को एक लाख रुपए, तीसरे विजेता को 71 हजार रुपए का इनाम मिलने वाला है। यही नहीं पर्चे में पहले 10 विजेताओं को तीन लाख रुपए के नकद इनाम व दो मोटरसाइकिल देना बताया है। जबकि, असल में अलवर के इंदिरा गांधी स्टेडियम में कोई भी दौड़ प्रतियोगिता नहीं है। डिफेंस एकेडमी अलवर के नाम से कोई संस्था भी नहीं है।

ये पर्चा वायरल किया। इस पर दिए नम्बरों के जरिए फोन पे से राशि ली।
ये पर्चा वायरल किया। इस पर दिए नम्बरों के जरिए फोन पे से राशि ली।

रजिस्ट्रेशन के लिए ये दो नम्बर
पर्चे पर दौड़ में भाग लेने के लिए दो मोबाइल नम्बर दिए हुए हैं। इनमें से कभी एक मोबाइल नम्बर बंद कर लिया जाता है तो दूसरे को व्यस्त दिखाया जाता है। ताकि फोन करने वालों को यह लगे कि असल में प्रतियोगिता है। इस कारण फोन बिजी है।

फिर वाट्सअप पर बातचीत
जब फोन पर बात की जाने लगी तो सामने से जवाब मिला की अभी विजी हूं। वाट्सअप पर बात करो। इसके बाद वाट्सएप की बातचीत में ही पूरी जानकारी दी जाती हैं। फिर वाट्सएप पर ही फोन-पे के नम्बर भेजे जाते हैं। दूर के कारण काफी युवक असलियत का पता नहीं कर पाते। वे सीधे ठगी करने वालों के अकाउंट में राशि भेज रहे हैं। ऐसे अकेले कानपुर से एक दर्जन से अधिक के साथ ठगी सामने आ चुकी है। जब कुछ युवाओं ने भास्कर कार्यालय में फोन करके पता किया तो दूसरे युवाओं को रोका है।

इस अकाउंट में भेजे रुपए, पता चला फिरोजपुर में खाता
कानपुर के एसबीआई बैंक के खाता संख्या 39143535060 व आइएफएससी कोड एसबीआइएन0001071 पर पैसे भेजे गए। जब इस आइएफएससी अकाउंट के आधार पर बैंक का पता किया तो मालूम चला यह हरियाणा के फिरोजपुर झिरका एसबीआई बैंक शाखा का है।

अलवर का यह इंदिरा गांधी स्टेडियम। जहां कोई दौड़ प्रतियोगिता नहीं है।
अलवर का यह इंदिरा गांधी स्टेडियम। जहां कोई दौड़ प्रतियोगिता नहीं है।

ऐसे हो रहा अलवर के नाम से फर्जीवाड़ा
असल में अलवर सेना भर्ती का कार्यालय है। यहां हर साल सेना की भर्ती होती है। जिसके कारण हजारों की संख्या में युवा दौड़ की तैयारी करते हैं। कई डिफेंस एकेडमी संचालित हैं। हरियाणा अलवर से लगता हुआ है। वहां के जालसाजों ने यह जालसाजी की है कि अलवर के नाम से दौड़ प्रतियोगिता के पर्चे छपवाए। जिनको उत्तरप्रदेश व हरियाणा सहित कई प्रदेशों में वायरल करा दिया।ताकि युवाओं को शक नहीं हो। अलवर में इस तरह की दौड़ प्रतियोगिताएं होती रहती हैं। इसी कारण अलवर के नाम से उत्तरप्रदेश सहित अन्य जगहों पर ठगी हो रही है।

खबरें और भी हैं...