• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Later The Villagers Tied The Second Year Student In The School, Found Out That The Young Man's Mental Balance Was Bad

युवक में स्कूल में घुस कागजों में लगाई आग:ग्रामीणों ने सेकेंड इयर के छात्र को बांध दिया, पता लगा मानसिक संतुलन खराब

अलवरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
युवक जिसने आग लगाई। - Dainik Bhaskar
युवक जिसने आग लगाई।

दिवाली के दिन लोग पटाखे फोड़ रहे थे और उसी शाम को अलवर के पिनान के निकट राजकीय उच्च माध्यमिक स्कूल टोडानागर में एक सेकेंड ईयर का छात्र स्कूल के दस्तावेजों को जलाने में लगा था। कमरों के गेट खोलता और जो भी कागज मिलते उनको जलाता रहा। कई कमरों में आग लगा चुका था। जितने भी दस्तावेज मिले उनको आग लगा दी। पड़ोसियों ने कमरों से धुआं देखा तो वहां पहुंचे। युवक से पूछा तो बोला मैं अपना काम कर रहा हूं। आप जाओ। इसके बाद ग्रामीण पहुंच गए। उसे वहीं पर बांध दिया।पुलिस आकर युवक को हिरासत में लेकर गई।

प्रत्यक्षदर्शी संजय सिंह ने रोका
ग्रामीण संजय सिंह ने कहा कि कमरा नम्बर एक व दो से धुआं आता दिखा तो स्कूल में आया। यहां युवक ने खुद का नाम कपिल बताया। पूछा ये क्या कर रहे हो तो बोला अपना काम कर रहा हूं। फिर गाली गलौच पर उतर आया। इसके बाद ग्रामीण व स्कूल टीचर को सूचना दी। तब लोग वहां पहुंचे। उसे वहीं पर बांध दिया और पुलिस को सूचना दी।
प्रधानाचार्य ने कहा पूरा रिकॉर्ड जला दिया
स्कूल प्रधानाचार्या पुष्पा यादव ने बताया कि संजय की सूचना पर स्कूल पहुंचा। यहां आकर देखा तो ग्रामीण आग बुझाने में लगे थे। स्कूल में प्रवेश रजिस्टर, लाइब्रेरी टेबल का पूरा रिकॉर्ड जला दिया। पुलिस में मामला दर्ज करा दिया है। युवक को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। स्टाफ रूम के कागज फाड़ दिए। पोषाहार का रजिस्टर भी जला दिया। एक और अलमारी को तोड़ने की कोशिश की। लेकिन वह टूटी नहीं। इसलिए कुछ रिकॉर्ड बच गया।

स्कूल में जला हुआ सामान।
स्कूल में जला हुआ सामान।

मानसिक रूप से कमजोर युवक
थानाधिकारी अजीत सिंह ने बताया कि युवक सैकंड ईयर का स्टूडेंट है। बेहद गरीब परिवार से है। पिता निजी स्कूल में पढ़ाते हैं। दूसरों बच्चों की तरह इसे भी स्मार्ट फोन खरीदने का मन था। दिवाली के दिन यह कस्बे में गया। वहां किसी ने मोबाइल का खाली डिब्बा दे दिया। इसके बाद युवक स्कूल मे आ गया। डिब्बे में मोबाइल नहीं मिला तो इसने स्कूल में आकर रिकॉर्ड जलाना शुरू कर दिया। यह मानसिक रूप से बीमार है। इसी वजह से स्कूल में रिकॉर्ड जला दिया।

फोटो व कंटेंट: मनोज कुमार योगी, पिनान