पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Manisha Was Living In Shastri Nagar, Jaipur With Her Husband And Two Children, Manisha Went To Jail In August 2020 In Connection With Bribery

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पूर्व EO के पति ने की आत्महत्या:मनीषा यादव जयपुर में पति और बच्चों के साथ रह रही थी, बहरोड़ नगर परिषद में ठेकेदार से रिश्वत लेने के मामले में जा चुकी हैं जेल

अलवर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
पुलिस थाना शास्त्री नगर जयपुर। - Dainik Bhaskar
पुलिस थाना शास्त्री नगर जयपुर।
  • बताया जा रहा है कि घरेलू विवाद के चलते सतपाल ने आत्महत्या की

बहरोड़ की पूर्व ईओ मनीषा यादव के पति सतपाल यादव ने जयपुर के शास्त्री नगर में गुरुवार को आत्महत्या कर ली। पिछले साल अगस्त में मनीषा रिश्वत के मामले में जेल जा चुकी हैं। फिलहाल वे दोनों अपने दो बच्चों के साथ जयपुर के शास्त्री नगर में रह रही थीं। बताया जा रहा है कि घरेलू विवाद के चलते सतपाल ने आत्महत्या की है।

मनीषा का ससुराल बहरोड़ के बाटखानी गांव में है। अगस्त 2020 में रिश्वत में पकड़े जाने के बाद मनीषा को सस्पेंड किया गया था। वह काफी दिनों तक जेल में रही थीं। अब जेल से बाहर आने के बाद यह घटना हाे गई। पति सतपाल के आत्महत्या करने के बाद ग्रामीणों ने बताया कि गृहक्लेश ही आत्महत्या का कारण हो सकता है। सतपाल पहले बीएसएफ में एसआई के पद पर थे लेकिन, पांच से सात साल बाद ही नौकरी छोड़ दी थी। इसके बाद से घर पर ही रहते थे।

दोनों के दो बच्चे हैं। बेटे की उम्र करीब पांच तो बेटी करीब आठ साल की है। मनीषा बहरोड़ में कई बार बतौर ईओ काम कर चुकी थी। लेकिन, पिछले साल ठेकेदार का बिल पास करने में रिश्वत के मामले में उनके कार्यालय के पांच कर्मचारी पकड़े गए। सबको सस्पेंड किया गया। जिनमें से कुछ अब भी जेल में हैं। लेकिन, मनीषा उस मामले में बहाल हो चुकी हैं।

देर शाम काे अंतिम संस्कार
बहरोड़ के गांव बाटखानी में सतपाल का शव शाम को पहुंचा। इसके बाद अंतिम संस्कार किया गया। सतपाल तीन भाइयों में सबसे छोटा था। दोनों भाई भी सरकारी नौकरी में हैं। एक पटवारी से सेवानिवृत्त् हो चुके हैं।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आसपास का वातावरण सुखद बना रहेगा। प्रियजनों के साथ मिल-बैठकर अपने अनुभव साझा करेंगे। कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा बनाने से बेहतर परिणाम हासिल होंगे। नेगेटिव- परंतु इस बात का भी ध...

और पढ़ें