पहल / लॉकडाउन के बाद एमआईए में लगेंगी नई इकाइयां,खैरथल के उद्याेगपति ने तेल उत्पादक इकाई लगाने की इच्छा जताई

X

दैनिक भास्कर

May 18, 2020, 05:00 AM IST

अलवर. अन्य औद्याेगिक क्षेत्राें के मुकाबले कम प्रदूषण, दिल्ली व जयपुर से नजदीकी, श्रमिकों की पर्याप्त उपलब्धता समेत कई ऐसे कारण हैं जिनकी वजह से अलवर के मत्स्य औद्याोगिक क्षेत्र (एमआईए) के प्रति उद्योगपतियों का आकर्षण बढ़ रहा है। जिले के अलावा राज्य व देश के विभिन्न स्थानों के उद्योगपति यहां औद्योगिक इकाई लगाना चाहते हैं। इसके लिए लगातार रीको के स्थानीय अधिकारियाें से उद्याेगपति फाेन पर तथा अन्य माध्यमों से संपर्क कर रहे हैं। उद्याेगाें काे बढ़ावा देने के लिए किए जा रहे सरकार के प्रयासाें काे देखते हुए विभिन्न स्थानाें के उद्याेगपति एमआईए में औद्याेगिक इकाई लगाने के लिए आकर्षित हुए हैं। पूर्व में एमआईए में सड़क संपर्क मार्ग अच्छा नहीं था, लेकिन  भविष्य में बनने वाले दिल्ली-मुम्बई इंडस्ट्रीज कॉरिडोर (डीएमअाईसी) काे देखते हुए भी एमआईए काे भविष्य के विकसित औद्याेगिक क्षेत्र के रूप में देखा जा रहा है।
रीको के अधिकारियों का कहना है कि कई क्षेत्रों के उद्योगपति एमआईए में खाली प्लॉटों की संख्या के बारे में जानकारी ले रहे हैं। रीको के जयपुर मुख्यालय ने लॉकडाउन से पहले लगाए ऑक्शन में आई पांच और औद्याेगिक इकाइयाें के प्लाॅटाें की एकल बाेली काे भी हाल ही में स्वीकृति दी है। जिससे यहां नई इकाइयां लगने की संभावना बढ़ी है। रीको के वरिष्ठ क्षेत्र प्रबंधक आदित्य शर्मा ने बताया कि एमआईए में औद्योगिक इकाइयां लगाने के प्रति उद्योगपतियों का रुझान पहले की अपेक्षा अधिक दिखाई दे रहा है।
रीको ऑफिस में रोज उद्यमियों के विभिन्न क्षेत्रों से फोन आ रहे हैं। वे यहां की स्थिति व खाली प्लाटाें के बारे में जानकारी ले रहे हैं, साथ ही ऑक्शन के बारे में पूछ रहे हैं। कुछ बड़े औद्योगिक समूहों ने भी यहां औद्याेगिक इकाइयां लगाने में दिलचस्पी दिखाई है। इनमें दिल्ली समेत अन्य स्थानाें के उद्याेगपति शामिल हैं। खैरथल के एक उद्याेगपति ने अलवर के रीको क्षेत्र में एक बड़ी तेल उत्पादक इकाई लगाने की बात कही है। एग्राे फूड पार्क में बड़ी यूनिट लगाने के लिए भी बड़े प्लाॅट की मांग बड़े औद्योगिक समूह ने की है। इसके साथ ही केमिकल व अन्य तरह इकाइयाें के लिए भी उद्योगपतियों द्वारा लगातार रीकाे में संपर्क किया जा रहा है। एक बड़ी केमिकल यूनिट लगाने के लिए एक औद्योगिक समूह ने यहां भूखंड देखा है। रीको के वरिष्ठ क्षेत्र प्रबंधक ने बताया कि एमआईए में नए काटे गए प्लाॅटाें का ऑक्शन लाॅकडाउन खुलने के बाद हाेगा। उद्योगपति एमआईए काे भविष्य के विकसित औद्योगिक क्षेत्र के रूप में देख रहे हैं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना