• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • MLA Accuses Me Of Coming To Office After Drinking Alcohol, Defamed Me, While I Got Myself Investigated, All Reports Are Normal

अलवर SDM ने विधायक पर लगाया मानहानि का आरोप:कलेक्टर को चिट्ठी लिख कहा- बहरोड़ MLA ने बदसलूकी की हदें पार कीं, बंधक बनाया, परिवार को नुकसान पहुंचाने की दी धमकी

अलवरएक वर्ष पहले
बहरोड़ एमएलए बलजीत यादव व एसडीए।

अलवर के बहरोड़ के विधायक बलजीत यादव व एसडीएम संतोष कुमार मीणा के बीच का विवाद और आगे बढ़ गया है। एसडीएम संतोष कुमार मीणा ने अलवर कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया को लिखित में शिकायत की है कि विधायक ने उनके साथ बदसलूकी की हदें पार कर दी। पहले मुझ पर शराब पीकर आने का आरोप लगाया। इसके बाद मुझे वहां से जाने नहीं दिया बंधक बनाए रखा। यही नहीं आवेश में आकर मुझे व मेरे परिवार को नुकसान पहुंचाने की धमकी भी दे रहे थे। इस मामले में कलेक्टर से आगामी कार्यवाही के लिए आवश्यक दिशा निर्देश भी मांगा है।

एमएलए के बारे में शिकायत

एसडीएम ने कलेक्टर को लिखा कि विधायक बलजीत यादव सोमवार को एसडीमए के ऑफिस पहुंचे थे। उस समय वे खोहरी गांव में राजकीय काम से गए थे। वापस आए तो विधायक बलजीत उनके कार्यालय में भीड़ लेकर खड़े थे। मीडिया को गलत बयान दे रहे थे। कोविड गाइडलाइन की पालना तक नहीं हो रही थी।

मेरा मास्क उतरवाया, शराब पीने का आरोप

एसडीएम ने कहा कि यह कहकर मेरा मास्क भी उतरवा दिया कि आपने शराब पी रखी है क्या। अधिकारी से इस तरह गलत बर्ताव किया। विधायक के इस व्यवहार से मुझे बहुत खेद हुआ। फिर भी मैंने मर्यादा को भंग नहीं होने दिया, लेकिन वे रुकने का नाम नहीं ले रहे थे। आवेश में आकर मुझे व मेरे परिवार को नुकसान पहुंचाने की धमकी भी दे रहे थे। जब मैं वहां से जाने लगता तो मुझे जबरन वापस बैठा लिया। राज कार्य करने में बाधा पैदा की। इस तरह माननीय विधायक ने समस्त हदों को पार कर दिया। उपखण्ड मजिस्ट्रेट को उनके ही कार्यालय में बंधक बनाकर प्रशासनिक वातावरण को दूषित किया गया।

एसडीएम ने रात को कहा था

एसडीएम ने सोमवार रात कहा था कि विधायक ने मुझ पर शराब पीने के आराेप लगा मेरी मानहानि की है। मैं पत्नी व सरकार को क्या जवाब दूंगा। वो मेरे बारे में यही सोच रहे होंगे कि मैं गैर जिम्मेदार अफसर हूं। लेकिन ऐसा नहीं है। मेरा निवेदन है कि जिस तरह विधायक के लगाए आरोप को मीडिया ने आगे बढ़ाया उसी तरह यह मैसेज भी ज्यादा से ज्यादा दिया जाए। ताकि मेरे अपने व सरकार को पता लगे कि उस पर लगाए गए आरोप पूरी तरह गलत हैं। विधायक ने तो बदसलूकी करने में कोई कसर नहीं छोड़ी।

विधायक ने करीब 3 घंटे तक किया था इंतजार

सोमवार को विधायक बलजीत यादव एसडीएम कार्यालय का औचक निरीक्षण करने गए थे। वे तीन घंटे तक कार्यालय में बैठे रहे। उसके बाद एसडीएम आए। फिर उनकी आपसी बातचीत के दौरान विधायक ने एसडीएम पर आरोप लगा दिया कि आपने शराब पी रखी है। यह भी कहा था कि अभी आप कहीं नहीं जाएंगे। उसी समय विधायक ने अलवर कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया से भी बातचीत की थी।

रात को ही एसडीएम ने कहा मेरी मानहानि हुई

रात को ही एसडीएम ने खुद की जांच कराई। एल्कॉहल की रिपोर्ट नॉर्मल मिली। इसके बाद एसडीएम ने बयान जारी किया कि उनकी मानहानि हुई है। बेबुनियाद आराप लगाए दिए गए। हालांकि इस तरह के आरोप कोई भी लगा सकता है। ऐसे बहुत कम लोग होते हैं तो मन चाहे जो आरोप लगा देते हैं। फिर भी मैंने जनप्रतिनिधि को पूरा सम्मान दिया था।

20 महीने से सेवा की

एसडीएम ने यह भी कहा कि 20 महीने से बहरोड़ में जनता की सेवा की है। ट्रांसफर होना या नहीं होना अलग विषय है। हमें जहां भी लगाया जाएगा हम वहां जनता की सेवा करेंगे। फिर भी बहरोड़ की जनता ने गरिमा का ख्याल रखा है। विधायक के बारे में कहा कि हर कोई ऐसा नहीं होता। मेरे कार्यालय में काफी लोग आते रहते हैं। कुछ दिन पहले से यह चर्चा थी कि मेरे साथ इस तरह का बर्ताव हो सकता है।

विधायक व SDM आमने-सामने:MLA ने कलेक्टर से कहा- आपके अधिकारी ने शराब पी रखी है, एसडीएम बोले- अब तो कलेक्टर साहब ही आकर जांच कराएंगे

खबरें और भी हैं...