पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Municipal Council Chairman Bina Gupta Said In The Conversation I Will Work Fearlessly, Will Not Work Under Anyone's Pressure And Will Work In The Public Interest

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

भास्कर इंटरव्यू:नगर परिषद सभापति बीना गुप्ता ने बातचीत में कहा-मैं निडर होकर काम करूंगी, किसी के दबाव में ना आकर जनता के हित में काम करती रहूंगी

अलवर4 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • भास्कर : आपकी किसी भी कमिश्नर से नहीं बनी, यह सब कमीशन की लड़ाई है?
  • सभापति : फतेह सिंह ने रुकावट डाली, अवस्थी को वर्क ऑर्डर से पूर्व पैसा चाहिए था

नगर परिषद सभापति बीना गुप्ता ने कहा कि मौजूदा कमिश्नर से पहले नगर परिषद में भ्रष्टाचार रहा। जो ठेकेदार पैसा देता, उसका वर्क ऑर्डर लगता। इसी को लेकर मेरी कमिश्नरों से तनातनी रही। कमिश्नर फतेह सिंह मीना ने काम में हमेशा रुकावट डाली। दूसरे कार्यवाहक कमिश्नर कुमार संभव अवस्थी को जो ठेकेदार पैसा देता, उसे वर्क ऑर्डर दिया जाता।

सभापति ने अपनी ही पार्टी के मौजूदा पार्षद और नगर परिषद के पूर्व प्रतिपक्ष नेता पर आरोप लगाए कि उन्हें कुर्सी चाहिए। वे मेरे खिलाफ सरकार और विभाग को गुमराह करने के लिए पत्र लिख रहे हैं। दैनिक भास्कर से बातचीत में सभापति ने कहा कि मैं एक साल निडर होकर काम करूंगी। किसी के दबाव में नहीं आऊंगी। मैं जनता के हित में काम करती करूंगी।

सवाल: आप सभापति क्यों बनी, आपका उद्देश्य क्या था?
जवाब: चुनाव लड़ने की मैंने कभी सोची नहीं थी। मैं 25 साल से कांग्रेस से जुड़ी हूं और समाज सेवा कर रही हूं। नगर परिषद के चुनाव आए तो जनता ने मुझे चुनाव लड़वाया। मेरा जनता की सेवा करने का ध्येय था। सभापति बनने के बाद सेवा का मौका मिला है। मैं शहर का विकास करना चाहती हूं और कोशिश कर रही हूं।
सवाल: आपके सभापति बनने के बाद नगर परिषद अखाड़ा बन गई है, ऐसा क्यों हुआ?
जवाब: मैंने अच्छाई पर ध्यान दिया। सब को साथ लेकर चलने का प्रयास किया है। ट्रांसपोर्ट नगर में वर्षों से नाले की सफाई नहीं हुई। साढ़े तीन सौ से चार सौ ट्रॉलियां मलबा निकाला गया। इससे शहर में पानी नहीं भरता। मेरा ध्येय है कि शहर में विकास होना चाहिए लेकिन ये लोग मुझे काम करने देना नहीं चाहते। इसे लेकर ही हमारी तू-तू मैं-मैं होती रहती है।
सवाल: आपकी किसी भी कमिश्नर से क्यों नहीं बनी, आरोप है कि कमीशन की लड़ाई है?
जवाब: पहले क्या होता था मुझे कोई मतलब नहीं, लेकिन मेरे सभापति बनने के बाद मैंने काम के लिए नोटशीट चलाई तो उस पर अडंगा लगने लगे। प्रताप स्कूल में नाले के पानी आता है। इसके लिए कहा तो कमिश्नर साहब ने मना कर दिया। मुझे जनता के काम करने हैं। वे करना नहीं चाहते थे। फतेह सिंह मीना काम करने में रुकावट डालते थे। उसके बाद कुमार संभव अवस्थी तो पार्षदों के साथ मिलकर राजनीति करने लगे। उनका यह हिसाब था कि कोई भी वर्क ऑर्डर देने से पहले पैसे चाहिए, तभी वर्क ऑर्डर मिलेगा। तीन-चार बार एनआईटी लगाई लेकिन अवस्थी ने कैंसिल कराई।
सवाल: शहर में कचरा और गाय की समस्या पहले से अधिक हो गई है। समाधान क्या है?
जवाब: बीजेपी के 15 साल के बोर्ड में सफाई पर ध्यान नहीं दिया गया। मुझे सभापति बने एक साल होने जा रहा है। ठेकेदार रो रहे हैं। मेरे आने के बाद 14 से 15 लाख पेनल्टी कट चुकी है। शहर में बराबर कचरा उठाया जा रहा है। हां, 15 साल से बिगड़ी व्यवस्था को सुधरने में कुछ समय लगता है। अभी नए कमिश्नर आए हैं, उन्होंने टीमें बना दी हैं। कचरा तुरंत उठाया जा रहा है। नए कमिश्नर आने के बाद 450 से 500 आवारा पशु पकड़े हैं। जनता भी दूध निकाल कर गायों को छोड़ देती है। उन्हें सोचना चाहिए।
सवाल: कुमार संभव अवस्थी से तो आपकी लड़ाई पुलिस तक पहुंच गई। ऐसे विकास कैसे होगा?
जवाब: कुमार संभव अवस्थी ने काम करने नहीं दिया। उसके जाने के बाद वार्ड 65 में श्मशान घाट बनवाया।
सवाल: आपका एक भी ऐसा काम है जो आपके सभापति बनने के बाद का हो और लोगों को फायदा होने लगा हो या लोग उसे याद रखें?
जवाब: सोनू चौधरी के वार्ड में श्मशान घाट बनवाया है। इसमें चार-पांच वार्ड लगते हैं। वहां ना तो टीन शैड थी और ना ही पानी की व्यवस्था। इसके अलावा हेतराम यादव और शीला जांगिड़ के वार्ड में श्मशान घाट का काम किया है। प्रतापबंध वाले वार्ड में बोरिंग लगवाई है।
सवाल: भविष्य की क्या योजनाएं हैं, क्या शहर का कोई फायदा होगा?
जवाब: शहर के कचरा निस्तारण के लिए अग्यारा में प्लांट तैयार हो रहा है। यह सबसे बड़ा काम है। दिसंबर या जनवरी तक चालू हो जाएगा। यह राजस्थान में तीसरा बड़ा प्लांट होगा। गाेलेटा में एक और ठेका देकर वहां जमा कचरे के निस्तारण कराने का प्लान है। इसमें कचरे से खाद बनेगी और बची सामग्री से सड़क भी बनाई जाएगी। यह प्रोसेस में चल रहा है।
सवाल:आपकी पार्टी आपके खिलाफ अविश्वास की अभी से तैयारी करने लगी है, इसमें कितना सच है ?
जवाब: ऐसे लोगों का अपना स्वार्थ है। उन्हें कुर्सी चाहिए थी। आज भी जो नेता प्रतिपक्ष नहीं है, उसने मेरे खिलाफ पत्र लिखा है। वह पूर्व नेता प्रतिपक्ष है लेकिन उस पत्र में पूर्व नहीं लगाया। उसने कांग्रेस पार्टी, स्वायत्त शासन विभाग व हमारे मंत्री शांति धारीवाल को गुमराह किया है। मुझे बीजेपी का चेयरमैन बना दिया। मेरे खिलाफ नोटिस निकलवाया है। उसने कुछ पार्षदों से लिखवा लिया। मैं निडर होकर काम करूंगी। किसी के दबाव में नहीं आऊंगी। मैं जनता के हित में काम करती करूंगी।
सवाल: पार्षदों का कहना है कि आपके शासन में कांग्रेसियों के कम और भाजपाइयों के ज्यादा काम होते है। क्या ये सच है?
जवाब: ऐसा नहीं है। मै सभी वार्डों में समान रूप से काम करा रही हूं। जो जरूरी काम है, वह पहले होगा। चाहे वह कांग्रेस, भाजपा या निर्दलीय का वार्ड हो। सभी 65 वार्डों में 10-10 लाख की एनआईटी लगा दी है। किसी तरह का किसी के साथ भेदभाव नहीं। पूरे शहर में समान रूप से विकास किया जाएगा।
सवाल: सफाई और राेड लाइट व्यवस्था के लिए क्या किया जा रहा है?
जवाब : शहर में नई राेड लाइट लगाने के लिए 2 हजार राेड लाइटें मंगाई गई है। ये लगाई जाएंगी। साथ ही ठेका कंपनी से भी राेड लाइट ठीक कराई जा रही है। यह काम शीघ्र ही पूरा किया जाएगा। इसके साथ ही नया सफाई ठेका भी तैयार किया जा रहा है। इसके बाद व्यवस्था में और सुधार हाेगा।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज जीवन में कोई अप्रत्याशित बदलाव आएगा। उसे स्वीकारना आपके लिए भाग्योदय दायक रहेगा। परिवार से संबंधित किसी महत्वपूर्ण मुद्दे पर विचार विमर्श में आपकी सलाह को विशेष सहमति दी जाएगी। नेगेटिव-...

    और पढ़ें