पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जेल से छूटी जिया बाेली:ना पपला छत से कूदा था; ना उसने मेरी गर्दन पर चाकू रखा था, यह पुलिस की बनाई कहानी

अलवर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
अलवर, जेल से रिहा हाने के बाद कार में सवार हाेती जिया। - Dainik Bhaskar
अलवर, जेल से रिहा हाने के बाद कार में सवार हाेती जिया।

हाईकोर्ट से जमानत याचिका मंजूर हाेने के बाद गैंगस्टर पपला गुर्जर की गर्लफ्रेंड जिया बुधवार शाम 7.15 बजे अलवर की सेंट्रल जेल से रिहा हो गई। जेल से बाहर आते ही पिता काे देखकर उसकी आंखों में आंसू छलक आए। पिता चांद सिकलीगर अपने वकील अंकित गर्ग के साथ ​​​बेटी को लेने जेल पहुंचे थे। जिया रात काे अपने पिता के साथ काेल्हापुर के लिए रवाना हाे गई।

अलवर से रवाना हाेने से पहले जिया ने मीडिया के सामने रहस्याेद्घाटन किया कि पपला ने ना ताे उसकी गर्दन पर चाकू रखा था और ना ही वह 3 मंजिल से कूदा था। यह सब पुलिस की बनाई हुई कहानी है। दरअसल, पुलिस ने उन दाेनाें काे रात करीब 11 बजे बाद मकान की घेराबंदी कर पकड़ा था। उस दाैरान दाेनाें फ्लैट में थे। इसके बाद पुलिस उसे व पपला काे अलग-अलग गाड़ी में वहां से ले गई।

हम एयरपोर्ट पर मिले, ताे मैंने पपला से पुलिस की कार्रवाई के बारे में पूछा। पपला ने कहा कि तुम काेई टेंशन मत लाे। मैं सबकुछ संभाल लूंगा। मैंने उसके पैर पर बंधी पट्टियाें के बारे में पूछा ताे उसने बताया कि पुलिस ने हथौड़े से उसका पैर ताेड़ दिया है। जिया ने कहा कि पपला उसका सामान्य मित्र था। उससे लिव इन रिलेशनशिप नहीं थी।

हालांकि, पुलिस की कार्रवाई से एक दिन पहले ही उसने मां काे उसके बारे में बताया था। जिया ने कहा कि पपला ने उसे अपना नाम मानसिंह उर्फ हरिशचंद्र यादव और दिल्ली छतरपुर का रहने वाला बताया था। दिल्ली में उसने अपना राेडी-बजरी का बिजनेस बताया था। मुझे यह पता नहीं था कि पपला इतना बड़ा गैंगस्टर है।

पुलिस ने पुणे के एयरपोर्ट पर उसे पहली बार बताया कि पपला गैंगस्टर है और उसका असली नाम विक्रम गुर्जर है। ये बातें पता चलने पर वह तब मानसिक तनाव में आ गई थी। हाईकाेर्ट ने मंगलवार को जिया की जमानत अर्जी मंजूर की थी। जमानत के आदेश लेकर उसके वकील जयपुर से बहरोड़ थाने और इसके बाद बुधवार शाम अलवर आए। पुलिस ने 28 जनवरी को महाराष्ट्र के कोल्हापुर से पपला के साथ जिया को गिरफ्तार किया था। इसके बाद पहले 7 दिन वह पुलिस कस्टडी में रही। फिर 4 फरवरी को उसे कोर्ट ने जेल भेज दिया था। वह 61 दिन जेल में रही।

जिम में हुई थी पपला से पहली मुलाकात, शादी का काेई इरादा नहीं : जिया ने बताया कि कोल्हापुर में वह जिम ट्रेनर का काम करती थी। उसी जिम में पपला गुर्जर आने लगा था। वहीं 13 दिसंबर 2020 को पहली मुलाकात हुई थी। इसके बाद दोनों में नजदीकियां बढ़ीं। पपला ने खुद का नाम मानसिंह बताया और कहा कि वह बिजनेस के सिलसिले में यहां आया है। लॉकडाउन के कारण वह यहां रुका है।

इसी दौरान जिया पपला के प्रेमजाल में फंसती चली गई। जिया ने कहा कि पपला के प्रति उसकी काेई सहानुभूति नहीं है। मेरा उससे शादी करने का काेई इरादा नहीं है।

6 सितम्बर 2019 को जेल से भागा था पपला : पपला गुर्जर को अलवर में बहरोड़ पुलिस ने 5 सितम्बर 2019 को पकड़ा था। उसके पास करीब 32 लाख रुपए मिले थे। रात को पपला को बहरोड़ थाने के लॉकर में रखा था। अगले दिन 6 सितंबर की सुबह पपला के साथी बदमाश थाने आए और एके-47 से गोलियां बरसाई। लॉकअप का ताला तोड़कर वे पपला को भगा ले गए थे।

पिता बाेला-पपला ने खुद को राॅयल फैमिली का बताया, उससे परिवार को खतरा

जिया के पिता चांद सिकलीगर ने कहा कि उसके वकील ने पपला की चार्जशीट दिखाई थी। वह ताे बड़ा गैंगस्टर है। पिता ने गैंगस्टर व उसकी गैंग से उसे व परिवार काे खतरे की आशंका जताई है। उन्होंने कहा कि पपला ने खुद को रॉयल फैमिली का बताकर बेटी काे फंसाया। उसने मेरी बेटी का जीवन बर्बाद कर दिया। वह इतना बड़ा गैंगस्टर है, इसका जरा भी आभास बेटी काे नहीं था।

जिया के पिता पेशे से डॉक्टर और मां हाउस वाइफ हैं। जिया दो बहनें हैं। छोटी बहन फार्मासिस्ट है। जिया होम्योपैथिक से डॉक्टरी की पढ़ाई कर रही थी। इस बीच, उसने द्वितीय वर्ष में पढ़ाई छाेड़ दी और जिम ट्रेनर का काम करना शुरू कर दिया था। जिया ने बताया कि उसकी 7 साल पहले भोपाल के एक नवाब परिवार के लड़के से पहली शादी हुई थी लेकिन पति के दूसरे महिला से अफेयर के चलते तलाक हाे गया था।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप अपने काम को नया रूप देने के लिए ज्यादा रचनात्मक तरीके अपनाएंगे। इस समय शारीरिक रूप से भी स्वयं को बिल्कुल तंदुरुस्त महसूस करेंगे। अपने प्रियजनों की मुश्किल समय में उनकी मदद करना आपको सुखकर...

    और पढ़ें