4 साल पहले की थी लव-मैरिज, फंदे से लटकी मिली:पीहर पक्ष का आरोप-दहेज में कार नहीं दी तो मार डाला

अलवर3 महीने पहले
हरप्रीत कौर एनईबी कॉलोनी की रहने वाली थी। जितेंद्र व्यास से उनसे प्यार किया और दोनों ने अरेंज मैरिज कर ली। अब हरप्रीत का शव फंदे से लटका मिला है।

अलवर शहर की शालीमार सोसायटी में शनिवार रात 31 साल की महिला फ्लैट में फंदे से लटकी मिली। पीहर पक्ष ने बेटी के पति, सास, जेठ-जेठानी पर हत्या कर शव लटकाने का आरोप लगाया।

पीहर पक्ष का कहना है कि 4 साल पहले 2018 में हरप्रीत कौर ने जितेंद्र व्यास से लव मैरिज की थी। शादी में दोनों के परिवार शामिल हुए थे। दहेज में कार की डिमांड की थी। तब से वे लोग कार का दबाव बना रहे थे। पुलिस ने पोस्टमार्टम के बाद परिजनों की रिपोर्ट के आधार पर जांच शुरू कर दी है।

महिला हरप्रीत कौर का पीहर अलवर शहर की एनईबी कॉलोनी में है। पति-पत्नी चार महीने पहले ही शालीमार आवासीय सोसायटी के फ्लैट में रहने लगे थे। दोनों के कोई संतान नहीं थी। महिला हरप्रीत कौर मत्स्य इंडस्ट्रियल एरिया (MIA) में विंटेज कंपनी में जॉब करती थी। पति जितेंद्र व्यास ई-मित्र संचालक था। हरप्रीत के भाई करतार सिंह ने बताया कि बहन की शादी में पूरा सामान दिया था।

अस्पताल में परिजनों से जानकारी लेती पुलिस।
अस्पताल में परिजनों से जानकारी लेती पुलिस।

शादी के बाद कार लाने का दबाव
करतार सिंह ने बताया कि हरप्रीत की शादी के कुछ महीने बाद ही पति, सास, जेठ व जेठानी कार लाने का दबाव बनाने लगे। वह मानसिक तौर पर प्रताड़ित की जा रही थी। इस बार रक्षाबंधन पर भी हरप्रीत को परेशान किया। एक दिन पहले ही हरप्रीत अपने भाई के पास आई थी। खुद के परेशान होने के बारे में बताया था। फिर वह अपने फ्लैट पर चली गई।

पति जितेंद्र के साथ हरप्रीत कौर।
पति जितेंद्र के साथ हरप्रीत कौर।

शव फ्लैट में फंदे पर लटका मिला
शनिवार रात को हरप्रीत का शव फंदे पर लटका मिला। ससुराल पक्ष वाले सुसाइड करना बात रहे हैं। लेकिन पीहर पक्ष ने रिपोर्ट दी है कि उसकी हत्या कर शव को फंदे से लटकाया गया है। अब पुलिस मामले की जांच में जुटी है।