कार्रवाई / हथियारों के फर्जी लाइसेंस बनाने के आरोप में पकड़ा अधिकारी रिमांड पर

X

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:00 AM IST

अलवर. हथियारों के फर्जी लाइसेंस बनाने के मामले में गिरफ्तार जिला कलेक्टर कार्यालय के सहायक प्रशासनिक अधिकारी दुर्गेश चाेला काे पुलिस ने दो दिन के रिमांड पर लिया है। इस मामले में चोला का साथी संविदा कर्मी कंप्यूटर ऑपरेटर सुशील अरोड़ा अभी पुलिस के हाथ नहीं लगा है। शहर कोतवाल अध्यात्म गौतम ने बताया कि दुर्गेश चोला को अदालत में पेश कर 1 जुलाई तक के लिए पुलिस रिमांड में लिया है।

चोला के कार्यकाल के दौरान बने हथियार लाइसेंसों के मामले में पुलिस उससे जानकारी जुटा रही है। उसके कार्यकाल में बाहरी प्रदेशों के लाइसेंस भी रिन्यू किए गए थे। इसका रिकॉर्ड पुलिस खंगाल रही है। अभी तक की पूछताछ में 3 फर्जी लाइसेंस बनाने का मामला सामने आया है। आरोपों की पुष्टि होने के बाद चोला को साेमवार को कोतवाली थाना पुलिस ने गिरफ्तार किया था।

इस मामले में कलेक्टर के निर्देश पर एक अलग से कमेटी भी जांच कर रही है। चोला ने फर्जी तरीके से जिला कलेक्टर की माेहर व हस्ताक्षर कर लाइसेंस जारी किए। मामला उजागर होने के बाद चोला को निलंबित कर दिया गया था जबकि संविदा कर्मी की सेवाएं समाप्त कर दी गई थीं।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना