अधिशासी अभियंता ने तैयार किया एस्टीमेट:बिजली व निर्माण के लिए ‌412 लाख मिलने पर ही 7 सीएचसी में शुरू होंगे ऑक्सीजन प्लांट

अलवरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ऑक्सीजन प्लांट के लिए अधिशासी अभियंता ने तैयार किया एस्टीमेट, जयपुर एनएचएम काे भेजा - Dainik Bhaskar
ऑक्सीजन प्लांट के लिए अधिशासी अभियंता ने तैयार किया एस्टीमेट, जयपुर एनएचएम काे भेजा

जिले में काेराेना की तीसरी लहर की आशंका बनी हुई है, लेकिन बजट के अभाव में ऑक्सीजन प्लांट शुरू नहीं हाे पा रहे हैं। चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग ने सीएचसी स्तर पर 7 ऑक्सीजन प्लांट शुरू करने के लिए बिजली और सिविल कार्य कराने के लिए राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन से 412 कराेड़ रुपए की डिमांड की है।

ये वे प्लांट हैं, जाे कंपनियाें ने ताे दान में दे दिए, लेकिन उनके लिए बिजली की लाइन, जनरेटर, कनेक्शन, ऑक्सीजन जनरेशन शेड और मेनीफाेल्ड और उसके लिए कमरे की काेई व्यवस्था नहीं की है। अतिरिक्त जिला कलेक्टर प्रथम के निर्देश पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिशासी अभियंता जगन लाल मीणा ने 7 प्लांट्स में बिजली कार्य व उपकरणाें के लिए 312.54 लाख और निर्माण कार्य के लिए 99.84 कराेड़ रुपए का एस्टीमेट तैयार किया है। जब ये राशि मिलेगी तभी ये कार्य हाेंगे। इसके बाद ऑक्सीजन प्लांट्स शुरू हाेने की उम्मीद की जा सकती है।

उल्लेखनीय है कि जिले में अभी तक 27 में से 13 ऑक्सीजन प्लांट लग पाए हैं। सबसे ज्यादा परेशानी सीएसआर फंड से मिले ऑक्सीजन प्लांट में आ रही है, क्याेंकि प्लांट के अलावा बिजली संबंधी उपकरण और भवन निर्माण कार्याें के लिए सरकार से पैसे की डिमांड की गई है।

  • सीएसआर से प्लांट ताे उपलब्ध हाे गए, लेकिन जनरेटर सहित अन्य उपकरणाें और प्लांट शेड व कक्ष निर्माण के लिए बजट की जरूरत है। इसकी डिमांड राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन निदेशक काे भेजी गई है - डाॅ. ओमप्रकाश मीणा, सीएमएचओ
खबरें और भी हैं...