पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

बिजली संकट:बिजली कटौती से लोग परेशान, बार- बार फाल्ट से उपकरण हो रहे खराब

अलवरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अधिकारी बोले- बारिश होने पर बिजली की खपत में कमी आएगी

बिजली निगम द्वारा मेंटिनेंस के नाम पर कटौती की जा रही है। उसके बाद भी अघोषित कटौती लगातार की जा रही है। इससे भीषण गर्मी में उपभोक्ता काफी परेशान है। लोग निगम के कार्यालय पर पहुंचकर आक्रोशित हो रहे है। इसके बावजूद भी सुधार नहीं हो पा रहा है। हालांकि, निगम द्वारा लाईन सुधार टीम लगाकर रखी है। लेकिन कई घंटों की कटौती फिर भी बनी हुई है। जिसका मुख्य कारण गर्मी में खपत अधिक होने के साथ लोड भार पड़ने से लाईनों में फाल्ट होना माना जा रहा है।
जिसके चलते निगम अधिकारी उपभोक्ताओं को बारिश करवाने के सलाह देने लगे है। जिससे बारिश के दिनों में भार कम पड़ने से लाईन दुरूस्त रहने की सम्भावना जताई जा रही है। दरअसल, शहर में निगम के 15 हजार उपभोक्ता है। जहां रोजाना साढ़े तीन लाख यूनिट बिजली की खपत हो रही है। जबकि क्षेत्र में 49 हजार उपभोक्ताओं में चौदह लाख यूनिट लग रही है। गर्मी के दिनों में तीस से चालीस फीसदी बढ़ोतरी हो रही है।
निगम के अधिकारियों का मानना है कि गर्मी में अतिरिक्त भार बढ़ने से पुरानी लाईनों पर अतिरिक्त भार पड़ने से फाल्ट की समस्या अधिक रहती है। जिससे शहर में रोजाना चार से पांच घंटे की अघोषित कटौती हो रही है। बिजली खपत बढ़ने से कई वार्डों में कम वोल्टेज की बिजली सप्लाई हो रही है। जहां वोल्टेज कम-ज्यादा होते रहते है। जिसके कारण कूलर व एसी की घड़घड़ाहट बनी रहती है। जिससे रात में शोरगुल होने से लोग नींद भी पूरी नहीं ले पा रहे है। अधिकारियों का कहना है कि बारिश होने पर खपत में कमी होगी। जिसके बाद नियमित व हाई वोल्टेज की सप्लाई मिल सकेगी।
केबल जाल से फाल्ट बढ़े
शहर के वार्डों में पांच सौ मीटर दूरी पर रखे ट्रांसफार्मर से बिजली सप्लाई की जा रही है। केबल की दूरी बढ़ने के साथ कई जगह केबल में क्रॉसिंग लगाकर काम चलाया जा रहा है। उधर, पोल पर भी केबल जाल फैला हुआ है। जिसके कारण फाल्ट की समस्या अधिक बनी रहती है। शहर में ट्रांसफार्मर खराबी व लाईन फाल्ट होने का दंश अधिक है।

ऑफिसर कॉॅलोनी की नही जाती बिजली, लोगों में रोष
शहर के दीवान मोहल्ला, खासापुरा, जैतपुरा, सबलपुरा, झारौड़ा, मुख्य बाजार, इंद्रा काॅलोनी, मानपुरा सहित अन्य वार्डों में लाईन फाल्ट की समस्या अधिक रहती है। जबकि शहर की ऑफिसर कालोनी में नियमित सप्लाई रहती है। जहां एसडीएम, डीएसपी, तहसीलदार सहित अधिकारियों के सरकारी क्वाटर्स बने है। उक्त कालोनी में नियमित सप्लाई रहने से लोग अधिक आक्रोशित है।

भीषण गर्मी के कारण बिजली की खपत तीस से चालीस फीसदी बढ़ गई है। जिससे फाल्ट की समस्या अधिक आ रही है। जिसके लिए टीम का गठन कर रिपेयर करवाई जा रही है। पुरानी लाईनों को दुरूस्त करवाने का काम बारिश के बाद शुरू करवाया जाएगा।
- बीएल नागपाल, जेईएन, बिजली निगम, बहरोड़

खबरें और भी हैं...