कलेक्टर पहुंचे डेडिकेटेड काेविड हाॅस्पिटल:आइसीयू, वेंटिलेटर व ऑक्सीजन बेड बढ़ाने की तैयारी, जिले में बढ़ते जा रहे हैं कोरोना मरीज

अलवर6 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
लॉडर्स हॉस्पिटल में चिकित्साकर्मी। - Dainik Bhaskar
लॉडर्स हॉस्पिटल में चिकित्साकर्मी।

अलवर जिले में प्रमुख अस्पतालों में ज्यादातर बड़े अस्पतालों में आइसीयू ही नहीं वेंटिलेटर व ऑक्सीजन के बेड भी भर गए हैं। लेकिन, जिले में पांच दिनों से लगातार एक हजार से अधिक पॉजिटिव आने का क्रम जारी है। जिसे देखते हुए कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया गुरुवार को लॉडर्स डेडिकेटेड कोविड अस्पताल पहुंचे। वहां अधिकारियों को ऑक्सीजन बेड बढ़ाने के अलावा आइसीयू के बेड बढ़ाने के निर्देश दिए।

अभी लॉडर्स में वेंटिलेटर कम
अभी लॉडर्स में 5 ही वेंटिलेटर हैं। यहां करीब 10 वेंटिलेटर और बढ़ाने की तैयारी चल रही है। इसके अलावा आइसीयू के बेड भी बढ़ाने की जरूरत है। इस मकसद से कलेक्टर प्रमुख चिकित्सा अधिकारी सहित अन्य प्रशासन के जिम्मेदार अधिकारियों के साथ मौका निरीक्षण किया गया।

लॉडर्स में इंतजाम कम, व्यवस्था अच्छी
लाडर्स में प्रशासन की ओर से वेंटिलेटर व आइसीयू के बेड कम हैं। वैसे ऑक्सीजन बेड भी आवश्यकता के अनुसार बढ़ाने की जरूरत है। लेकिन, यहां की व्यवस्थाएं ठीक हैं। यहां भर्ती मरीज व्यवस्थाओं से संतुष्ट हैं।

ऑक्सीजन के बेड बढ़ाने पर जोर
अब यहां भी ऑक्सीजन के बैड बढ़ाने की तैयारी चल रही है। असल में जिला अस्पताल में ऑक्सीजन बैड बढ़ाने के बाद भी वहां मरीज फुल हो गए हैं। उधर, इएसआइसी मेडिकल कॉलेज में अभी मरीजों की संख्या कम है। वहां भी आवश्यक मेडिकल उपकरणों की कमी है।

खबरें और भी हैं...