हेरिटेज वॉक पहुंची बहादरपुर का किला:प्रो अल्ताफ ने कहा- मेवात की विरासत, कला व साहित्य से रूबरू होना मकसद, सरकारों की ओर से जीर्णोद्धार नहीं हो रहा

अलवर25 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
हेरिटेज वॉक पर पहुंची टीम। - Dainik Bhaskar
हेरिटेज वॉक पर पहुंची टीम।

"मेवात कल आज कल" की ओर से "हेरिटेज वॉक" श्रृंखला के तहत शनिवार को बहादुरपुर कस्बे में स्थित किला गुम्मद,केसरपोल,मीराशाह की दरगाह का भ्रमण किया गया। संस्था के संयोजक मुज्तबा, समद और दिल्ली में प्रोफेसर अल्ताफ से इस वॉक के उद्देश्य के बारे में बताया। प्रो अल्ताफ ने कहा कि मेवात क्षेत्र मे बहुत सी विरासत दुर्दशा का शिकार हैं। पुरातत्व विभाग की ओर से विरासत की सुध नहीं ली जा रही है। मेवात क्षेत्र की कला, संस्कृति, भाषा साहित्य, ग्रंथ, रहन सहन से आने वाली पीढ़ी को रूबरू कराया जाना इस वॉक का मकसद है। ताकि नई पीढ़ी विरासत को जाने और समझ सके। उन्होंने कहा कि बहादुरपुर के किले की वर्तमान दुर्दशा को देखकर ऐसा प्रतीत होता है की सरकार इनके जीर्णोद्धार केवल बातें करती रही है। मौके पर कुछ भी सुधार नहीं है। इस दिशा में अभी बहुत कार्य होना बाकी है। पर्यटकों को देखकर बड़ा बुरा लगता है। लेकिन पुरातत्व विभाग ने अभी तक आंखे मूंद रखी हैं। इस हेरिटेज वॉक के दौरान शेरसिंह, अकरम,आरिफ, ओमप्रकाश, रमेश, किशनलाल,राजू सहित बहुत से ग्रामीण मौजूद थे।