रह-रह कर बारिश का कोटा पूरा:सितंबर माह के आखिरी दिनों में बारिश; फसलें खराब, बांध अब भी खाली

अलवर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आखिरी दिनों में बारिश के कारण जयसमंद बांध में पानी की आवक हुई थी। - Dainik Bhaskar
आखिरी दिनों में बारिश के कारण जयसमंद बांध में पानी की आवक हुई थी।

अलवर जिले में बारिश को कोटा सितंबर माह के आखिरी दिनों में हुई बारिश से पूरा हो सका है। अब तक औसत 555 मिमी से अधिक 626 मिमी बारिश हो चुकी है। लेकिन, इस बार एक भी बांध पूरी तरह नहीं भर सका। सिलीसेढ़ बांध में भी ऊपरा तक नहीं चल पाई। मंगलवर, मानसरोवर व बघेरीखुर्द को छोड़कर अन्य सभी बांध तो पूरी तरह खाली हैं। कुछ दिन पहले की बारिश के कारण जयसमंद बांध में थोड़ा बहुत पानी आ सका था।

आखिर में फसल भी खराब
जून-जुलाई व अगस्त की बजाय अलवर में सितंबर माह के आखिरी दिनों में बारिश हुई। जिसके कारण खेतों में बाजारे की फसल खराब हो गई। किसानों की उम्मीदों पर पानी फिर गया। जबकि जुलाई व अगस्त माह में अलवर जिले में बहुत कम बारिश हुई। इस कारण खेतों में सूखे का असर भी रहा। जब फसल पक गई तब बारिश होने से खराबा हो गया। जिससे किसानों को माेटा नुकसान हुआ है। हालांकि नुकसान का सरकार ने आकलन कराया है। ताकि किसानों को मुआवजा मिल सके।

एक दिन पहले ही कलक्टर किसानों की फसल का मौका देखने निकले।
एक दिन पहले ही कलक्टर किसानों की फसल का मौका देखने निकले।

जान लिजिए अब तक किस जगह-कितनी बारिश

रामगढ़ 597

मुण्डावर 627

बहरोड़ 571

बानसूर 596

लक्ष्मणगढ़ 275

तिजारा 469

कठूमर 522

किशनगढ़बास 1044

राजगढ़ 544

राजगढ़ 690

टपूकड़ा 500

बहादरपुर 693

नीमराणा 649

थानागाजी 686

कोटकासिम 988

गोविंदगढ़ 543

अलवर 771

जयसमंद 548

सोडावास 918

सिलीसेढ़ 654

नहीं भर पाए बांध, किस बांध में कितनी पानी

सिलीसेढ़ 26 फीट 3 इंच

मंगलसर 11 फीट 1 इंच

मानसरोवर 4 फीट 4 इंच

बघेरीखुर्द 4 फीट 7 इंच

नोट : ये बांध भी पूरे नहीं भर सके।

ये बांध पूरी तरह खाली

रामपुर, जय सागर, देवती, धमरेड़, लक्ष्मणगढ़, झिरोली, खानपुर, हरसौरा, जैतपुर, बावरिया, सीलीबेरी, बीगोता, तुसारी, निंबाहेड़ी, सारनखुर्द व समर सरोवर बांध में बिल्कुल पानी नहीं है।