पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Regarding The Throne Or Crisis On The Public, Kinnar Do Conference, Alwar Conference Will Cost About One Crore Rupees

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एक करोड़ का किन्नर सम्मेलन:गद्दी की बात हो या जनमानस पर संकट की, किन्नर करते हैं सम्मेलन, अलवर सम्मेलन की खर्च राशि 65 थोक में बंटेगी

अलवर4 दिन पहले
किन्नर सम्मेलन में अन्दर लगी ज्वैलरी की शॉप से खरीददारी करती किन्रर।

अखिल भारतीय किन्नर सम्मेलन अलवर शहर के मंगल परिणय में चल रहा है। इस 10 दिवसीय कार्यक्रम में करीब एक से सवा करोड़ रुपए खर्च होंगे। राजस्थान और उत्तरप्रदेश के किन्नरों के करीब 65 थोक आपस में बांटकर इस खर्च का वहन करेंगे। सम्मेलन में अब तक देशभर के अलग-अलग राज्यों से 2 हजार से अधिक किन्नर आए हैं। यहां पता चला कि किन्नर मुखिया की गद्दी की बात हो या जनमानस पर कोई आफत। किन्नर इसी तरह एकत्रित होकर सम्मेलन करते हैं। इस सम्मेलन में किन्नर कई तरह के कार्यक्रम करते हैं। जिसके पीछे यही मकसद होता है कि जनमानस के बीच खुशियां बनी रहें।

यह बात मंगलवार को अलवर के मंगल परिणय में आयोजित किन्नर सम्मेलन में आए किन्नरों ने बताई। उन्होंने बताया कि 31 मार्च से 10 अप्रैल तक सम्मेलन का आयोजन होगा। लेकिन, प्रमुख रूप से सात अप्रैल को फूल-पत्ती शोभायात्रा निकाली जाएगी। इसके बाद यह कार्यक्रम समापन की ओर चला जाएगा।

किन्नर सम्मेलन में बोहचरा माता की मूर्ति के पास अलवर मुखिया किन्नर मंजू बाई।
किन्नर सम्मेलन में बोहचरा माता की मूर्ति के पास अलवर मुखिया किन्नर मंजू बाई।

शंकर गुरुजी की जगह अब राखी बाई और मंजू बाई
अलवर में पिछले साल दिसंबर में किन्नर शंकर बाई का निधन हो गया था। उसके बाद उनकी गद्दी पर उनकी शिष्या मंजू बाई और राखी बई तभी आ सकेंगी जब एक बार शुद्धिकरण हो जाएगा। यह सम्मेलन उसी का हिस्सा है। 5 अप्रैल को चाक कार्यक्रम हुआ। अब 7 अप्रैल को फूल पत्ती शोभा यात्रा निकाली जाएगी।

त्रिपोलिया मंदिर में 11 किलो की घंटी चढ़ाएंगे
किन्नरों से मिली जानकारी के अनुसार फूल पत्ती कार्यक्रम के दिन किन्नरों की ओर से त्रिपोलिया मंदिर में 11 किलो की पीतल की घंटी चढ़ाई जाएगी और जलाभिषेक किया जाएगा। इसके बाद कलश लाकर पूजन किया जाएगा। फिर शंकर बाई की गद्दी का शुद्धिकरण होगा। उसके बाद ही उनकी शिष्या उस गद्दी पर बैठेंगी। तभी उनके पास आने वाले लोगों की सुन सकेंगी। यहां कई तरह की पीड़ा लेकर लोग पहुंचते हैं। जिनको किन्नर की ओर से आशीर्वाद दिया जाता है। ताकि उनके कष्ट दूर हो सकें। इसकी मान्यता खूब है।

सम्मेलन परिसर में तैयार हो रही किन्नर।
सम्मेलन परिसर में तैयार हो रही किन्नर।

एक ही छत के नीचे रहना और खाना
मंगल परिणय में किन्नर सम्मेलन जारी है। यहीं पर किन्नरों के रहने और खाने का इंतजाम है। किन्नरों के यहां अलग-अलग कार्यक्रम होते हैं। कोई मायरा भरती हैं। कुछ बेटियां बनती है। इस तरह के अलग-अलग कार्यक्रम होते रहते हैं।

सम्मेलन परिसर में लगी स्टॉल पर खरीददारी करती किन्नर।
सम्मेलन परिसर में लगी स्टॉल पर खरीददारी करती किन्नर।

आते-जाते रहे किन्नर
इस बार कोरोना महामारी के कारण किन्नर आते-जाते रहे हैं। कुछ किन्नर आए तो कुछ चले गए। 31 मार्च से यही क्रम जारी है। इस मामले में किन्नर मुखिया नीतू मौसी का कहना है कि कोरोना महामारी के कारण भीड़ एकत्रित नहीं की जा सकती।

कहां-कहां से आए किन्नर
अलवर, भरतपुर, करौली, जयपुर, मध्यप्रदेश, महाराष्ट्र, सीकरी, बंगाल, विशाखापट्टन सहित देशभर के अलग-अलग हिस्सों से किन्नर आए हैं। ऐसी मान्यता है कि जहां किन्नर सम्मेलन होता है। वहां उस दौरान कोई बड़ी आपदा नहीं आती। इस सम्मेलन में 31 मार्च से अब तक करीब 2 हजार किन्नर आ चुके हैं। यहां आने वाले किन्नरों को एक किलो लड्डू और 25 ग्राम चांदी का सिक्का दिया जाएगा।

सम्मेलन में खरीददारी कर रही किन्नर।
सम्मेलन में खरीददारी कर रही किन्नर।

हर समय बोहचरा माता की पूजा
यहां कार्यक्रम में बोहचरा माता की मूर्ति लगी है। जिसकी हर समय पूजा होती है। इस सम्मेलन के बाद मूर्ति अलवर में रखी जाएगी। सम्मेलन के भीतर की खाने की व्यवस्था रही। यहां कई स्टॉल भी लगी हैं। जहां किन्नर खरीददारी करते हैं। ये स्टॉल वहीं जाती हैं जहां किन्नर का सम्मेलन होता है। इसके अलावा बाजार से भी अपनी पसंद की खरीददारी की जाती है।

सम्मेलन में खाना खाते हुए किन्नर।
सम्मेलन में खाना खाते हुए किन्नर।
खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन मित्रों तथा परिवार के साथ मौज मस्ती में व्यतीत होगा। साथ ही लाभदायक संपर्क भी स्थापित होंगे। घर के नवीनीकरण संबंधी योजनाएं भी बनेंगी। आप पूरे मनोयोग द्वारा घर के सभी सदस्यों की जरूर...

और पढ़ें