पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Security Of Garibnathji's Temple Near Sodavas In Alwar, Responsible For The Police, Dispute Over The Throne Is Also Going On

पुलिस की चौकसी में मंदिर का छत्र चोरी:अलवर में सोडावास के पास गरीबनाथजी के मंदिर की सुरक्षा पुलिस के जिम्मे, गद्दी को लेकर विवाद भी चल रहा

अलवर3 महीने पहले
गरीबनाथजी के मंदिर के ऊपर का जाल तोड़कर घुसे चोर।

अलवर में सोडावास के पास स्थित प्रसिद्ध गरीबनाथजी के मंदिर में शनिवार रात को चोरी हो गई। यहां चोर छत का जाल काटकर चांदी का छत्र चोरी कर ले गए। खास बात यह है कि मंदिर की सुरक्षा के लिए पुलिस भी तैनात रहती है। बावजूद इसके मंदिर में चोरी हो गई।

सीसीटीवी में कैद
सीसीटीवी में चोरी की वारदात का पता लग रहा है। छत के ऊपर का जाल कटा हुआ है। चोर भी कैमरे में नजर आ रहा है। एसडीएम रामसिह राजावत ने घटना की जानकारी लेने के बाद हरसोरा थाने के प्रभारी को मामला दर्ज कर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। ड्यूटी पर मौजूद पुलिसकर्मी के खिलाफ भी कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा मंदिर परिसर में चारों तरफ रोशनी की व्यवस्था कराने को भी कहा गया है।

एक साल में 4 बार चोरी
यहां आस पास के ग्रामीणों ने बताया कि पिछले करीब एक साल में मंदिर में चार बार चोरी हो चुकी है। इसके बावजूद भी पुलिस चोरों को नहीं पकड़ सकी। जबकि, यहां सीसीटीवी कैमरे भी लगे हुए हैं। अब तो पुलिसकर्मी की ड्यूटी रहती है।

मंदिर के पास सुबह पैरों निशान देखते ग्रामीण व पुलिस।
मंदिर के पास सुबह पैरों निशान देखते ग्रामीण व पुलिस।

गद्दी को लेकर विवाद
असल में गरीब नाथजी का बड़ा मंदिर है। यहां हर साल मेला भरता है। पिछले कुछ महीनों से मंदिर की गद्दी को लेकर विवाद है। मामला आगे बढ़ने के बाद मंदिर को पुलिस की देखरेख में है। मतलब पुलिस रिसीवर है। तभी से यहां पुलिसकर्मी की ड्यूटी रहती है। प्रशासन ने बताया कि मंदिर के पूर्व महाराज के दो शिष्यों की गद्दी पर दावेदारी है। इस कारण फिलहाल मंदिर एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को सौंपा हुआ है। जो पूजा पाठ करता है। इसके अलावा पुलिस की देखरेख में है।