• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • Sensation Of Finding Body In Bansur's Buteri, Mark On Person's Neck foot And Neck, Refusal To Take Corpse Of Rural Corpse, Demand To Apprehend First Killers

युवक की हत्या, श्मशान के पास फेंका शव:हाथ-पैर व गले पर निशान, ग्रामीणों का शव लेने से इंकार, पहले हत्यारों को पकड़ने की मांग

अलवर2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
बुटेरी में श्मशान घाट के पास रास्ते पर पड़ा शव। डॉग स्कावयड से जांच करती पुलिस और जमा भीड़। - Dainik Bhaskar
बुटेरी में श्मशान घाट के पास रास्ते पर पड़ा शव। डॉग स्कावयड से जांच करती पुलिस और जमा भीड़।

जिले के बानूसर के बुटेरी गांव के 40 साल के रविन्द्र की बुधवार रात काे हत्या कर बदमाश बुटेरी श्मशान घाट के पास फेंक गए। गुरुवार सुबह खेत में बॉडी देख ग्रामीणाें ने पुलिस को सूचना दी। इसके बाद बहरोड़, नीमराणा व बानसूर थानों के पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। एफएसएल टीम व डॉग स्कायड के जरिए पुलिस हत्यारों की पड़ताल में लगी है। परिजन हत्यारों को पकड़े जाने तक शव नहीं उठाने पर अड़े हैं। हालांकि पुलिस का कहना है कि मामले में तीन संदिग्धों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

रात को मार कर फेंक गए
पुलिस व ग्रामीणों ने बताया कि रविन्द्र को बुधवार को भूरी डूंगरी पर पत्थर तोड़ने के लिए उसे घार से लेकर गए थे। शाम को रविन्द्र घर नहीं लौटा। उसका मोबाइल भी स्विच ऑफ हो गया था। गुरुवार सुबह उसका शव श्मशान घाट के पास मिला है।

रविन्द्र की हत्या कर शव यहां फेंका। अगले दिन डॉग स्कॉयड से जांच करती पुलिस।
रविन्द्र की हत्या कर शव यहां फेंका। अगले दिन डॉग स्कॉयड से जांच करती पुलिस।

पहाड़ में भी खून मिला
ग्रामीणों ने बताया कि भूरी डूंगरी पर पत्थरों पर खून के निशान हैं। इसके अलावा रविंद्र के हाथ-पैर व गले पर भी निशान हैं, जिससे साफ लग रहा है कि उसकी हत्या की गई है। रविंद्र के दो बेटे व पत्नी है।

भतीजे विकास की नौ माह पहले हुई थी मौत
रविन्द्र के भतीजे विकास की नौ माह पहले मौत हो गई थी। विकास को प्रशासन ने करंट से मरना दिखाया था। जबकि, ग्रामीणों का कहना है कि रविन्द्र के भतीजे की भी हत्या की गई थी। इस कारण ग्रामीण रविन्द्र का शव तब तक नहीं लेने पर अड़े हैं जब तक हत्यारों को गिरफ्तार नहीं किया जाता।

मौके पर डीएसपी व पुलिस
घटना स्थल पर बहरोड़ डीएसपी देशराज, नीमराणा डीएसपी महावीर सिंह, बानसूर एसएचओ कुशाल सिंह, हरसोरा एसएचओ सत्यनारायण सहित एफएसएल टीम व क्यूआरटी टीम मौजूद है। ग्रामीणों का कहना है कि क्षेत्र में अपराध की घटनाएं लगातार बढ़ रही है। इससे आमजन में भी रोष है।

खबरें और भी हैं...