पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

मानवता भी भूले:बुजुर्ग महिला को बेटों ने घर से निकाला जब थाने पहुंची तो एसएचओ ने थप्पड़ मारा

बहरोड़ (अलवर)एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बुजुर्ग रामरति - Dainik Bhaskar
बुजुर्ग रामरति
  • बहरोड़ थाने की घटना, रिटायर पुलिसकर्मी ने लगाया पत्नी के साथ बदसलूकी का आरोप, थानाधिकारी ने आरोप को झूठा बताया

बुजुर्गों को पारिवारिक प्रताड़ना से बचाने के लिए सरकार ने कानून बना दिया, लेकिन जब वे मदद मांगने थाने पहुंचते हैं तो पुलिस वाले ही उन पर हमलावर हो जाते हैं। संवेदनहीनता की ऐसी घटना शुक्रवार को बहरोड़ पुलिस थाने में हुई। यहां 64 वर्षीय वृद्धा ने थानाधिकारी पर न्याय दिलाने के बजाय थप्पड़ जड़ देने का आरोप लगाया है।

घटना के बाद बुजुर्ग महिला थाने में ही बिलख पड़ी। यह देख थानाधिकारी ने उसे महिला पुलिसकर्मी से पिटवाने की धमकी भी दी। महिला का पति भी रिटायर पुलिसकर्मी है, लेकिन वह उस वक्त मौके पर मौजूद नहीं था। महिला अपने बेटे-बहू से घर में रहने के लिए जगह दिलवाने की गुहार लेकर गई थी।

उधर, थानाधिकारी ने मामले को परिवार का झगड़ा बताते हुए थप्पड़ मारने की बात को झूठ बताया है। कस्बे के मानपुरा मोहल्ला निवासी रिटायर पुलिसकर्मी रतिराम यादव की 64 वर्षीय पत्नी रामरति देवी पत्नी रतिराम यादव ने बताया कि उसके पुत्रों के बीच मकान को लेकर विवाद चल रहा है। बेटे बुजुर्ग दंपती को घर में रहने को जगह नहीं दे रहे।

इसे लेकर वह गुरुवार को भी पुलिस थाने पहुंची थी। उसने पुलिस से घर में रहने को कमरा दिलाने की मांग की। इसके बाद पुलिस उसके छोटे पुत्र को शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार कर लाई। बड़े पुत्र को भी थाने लाकर पूछताछ के बाद छोड़ दिया। जबकि पीड़िता देर रात तक पुलिस थाने के बाहर बैठी रही। शुक्रवार को सुबह उसने थाना अधिकारी को बताया कि मकान उसके पति का है, लेकिन बेटे-बहू रहने को जगह नहीं दे रहे।

गुजारिश की कि बड़ी बहू से एक कमरा दिलवा दें। महिला का आरोप है कि इसी दौरान थाना अधिकारी ने आपा खो दिया और उसे थप्पड़ जड़ दिया। उसने चीख-पुकार मचाई महिला कांस्टेबल को बुला पिटाई करने को कहा। वृद्धा भागकर थाने से बाहर आ गई और पति रतिराम को आपबीती बताई। बेबस दंपती कस्बे के एक वकील के पास भी मदद लेने पहुंचे। इसके बाद इस्तगासे से थानाधिकारी के खिलाफ परिवाद दर्ज कराने की बात की गई।

विवादित रही है थानाधिकारी सांखला की कार्यशैली

बहरोड़ थानाधिकारी विनोद सांखला ने नपा चुनाव के दौरान युवक की पिटाई की और इसे लेकर सांसद महंत बालकनाथ से सरेआम उलझ चुके हैं। तब सांसद ने भी उनकी कार्यशैली पर सवाल उठाए थे। लगातार विवादों के बाद पिछले सप्ताह अग्रवाल भवन में थानाधिकारी सांखला ने खुद कहा कि अब उनका मन यहां रहने का नहीं है। विधायक बलजीत भी प्रशासनिक एवं अधिकारियों को हिदायत दे चुके हैं कि कोई भी फरियाद लेकर आए तो पुलिस व अधिकारी प्रेम से उन्हें सुने। इसके बावजूद थाने में वृद्धा की पिटाई की घटना ने सवाल खड़े कर दिए हैं।
आप-बीती बताते फफक पड़ी बुजुर्ग

घटना की सूचना पर मीडियाकर्मी मौके पर पहुंचे तो वृद्धा थप्पड़ मारने की बात कहते ही फट पड़ी। बिलखते हुए कहा कि उसने कोई गुनाह नहीं किया। वह तो पुलिस थाने में न्याय मांगने गई थी। उसे अपने ही घर में रहने को जगह नहीं मिल रही। थाने में पुलिस वालों ने भी पीटकर भगा दिया।

  • लोग पुलिस पर बदनामी का ठीकरा फोड़ते हैं। महिला का पारिवारिक विवाद हैं। बेटे-बहू को जेल डलवाना चाहती है। जबकि वह लोग पढे़ लिखे हैं। मैंने कोई थप्पड़ नहीं मारा, झूठा आरोप है। - विनोद सांखला, थानाधिकारी बहरोड़

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज आप बहुत ही शांतिपूर्ण तरीके से अपने काम संपन्न करने में सक्षम रहेंगे। सभी का सहयोग रहेगा। सरकारी कार्यों में सफलता मिलेगी। घर के बड़े बुजुर्गों का मार्गदर्शन आपके लिए सुकून दायक रहेगा। न...

और पढ़ें