पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

क्राइम:जेलों से पैरोल पर आए बदमाशों ने एक्टिव किए नेटवर्क, पनपने लगी अपराध की बेल

अलवर10 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • रेवाड़ी, तावडू व कोटकासिम में हुए मर्डर में इनका हाथ, इन पर नजर रखना पुलिस के लिए चुनौती

पिछले साढ़े तीन माह से कोरोना में उलझी पुलिस के लिए अब कोरोना की आड़ में जेलों से बाहर आए बदमाशों ने नई चुनौतियां खड़ी कर दी है। हरियाणा की भौंडसी जेल में मर्डर जैसे गंभीर मामलों में सजा काट रहे कई बदमाश कोरोना की वजह से पैरोल पर रिहा किए गए हैं। जिन्होंने बाहर आते ही अपने नेटवर्क को फिर से एक्टिव करना शुरु कर दिया है। इसका असर भी पिछले एक माह में सामने आने लग गया है। भिवाड़ी के सीमावर्ती तावडू, रेवाड़ी सहित कोटकासिम में हुए हत्याकांडों में इन बदमाशों की बड़ी भूमिका सामने आ रही हैं।

ऐसे में पुलिस पर अब इनकी निगेहबानी का नया जिम्मा आन पड़ा है। यदि पुलिस इन पर नजर नहीं रखती तो इलाके के अमन को ये फिर से ग्रहण लगा सकते हैं। कोरोना के संक्रमण की चपेट में आने से शायद ही कोई जगह बच सकी हो। कोरोना जेलों तक पहुंचा तो यहां अपने कुकृत्यों की सजा काट रहे अपराधियों के लिए यह संजीवनी साबित हो गया। कोरोना संकट को देखते हुए जेलों से अपराधियों को पैरोल पर रिहाई मिलने लगी। भिवाड़ी इलाके में होने वाले अपराध में एनसीआर के बदमाशों का हमेशा से बड़ा रोल सामने आता रहा है।

हरियाणा की हाईसिक्योरिटी जेल कही जाने वाली भौंडसी जेल में बंद कई बदमाशों का कोरोना संकट का लाभ मिला। हरियाणाा व राजस्थान पुलिस की मानें तो भिवाड़ी और उसके आसपास के हरियाणा के इलाके में सक्रिय रहे ऐसे 15 से 20 बदमाश इसका फायदा उठाकर जेलों से बाहर आने में सफल रहे। जिन्होंने बाहर आते ही अपने पुराने अपराध के नेटवर्क को फिर से जिंदा करना शुुरु कर दिया। पुलिस अपने सूचना तंत्र से इन पर नजर रखने के काम में जुट गई हैं। लेकिन इन्होंने बाहर आते ही अपने मंसूबें भी जाहिर करना शुरु कर दिए हैं।
पैरोल पर बाहर आए युवक की हुई हत्या : आठ जून को रेवाड़ी के गढ़ी बोलनी रोड पर दो युवकों की हत्या कर दी गई थी। इसमें से एक युवक अमित लॉकडाउन के दौरान की पैरोल पर बाहर आया था। वह वर्ष 2018 में हत्याकांड़ के मामले में भौंडसी जेल में बंद था। जिसके बाहर आते ही दूसरी गैंग के बदमाशों ने उसे एक युवती के माध्यम से जाल में फंसाकर बाहर बुलाया और उसकी गोली मारकर हत्या कर दी। इस वारदात में भौंडसी जेल में बंद बदमाश चांद का नाम आया था। उसकी मदद से इस वारदात को अंजाम दिया गया। चांद वो ही बदमाश है जिसका नाम कोटकासिम में 24 जून को दिनदहाड़े हुए जितेश उर्फ टिल्लू हत्याकांड में सामने आ रहा है। टिल्लू को भी रेवाड़ी की गैगवार की रंजिश की वजह से ही मौत के घाट उतारा गया था। हालांकि पुलिस अभी तक इस मामले में एक भी आरोपी को पकड़ नहीं सकी है। पैरोल से बाहर आए बदमाशों में भिवाड़ी के भी पांच-छह बदमाश हैं, जो हत्या जैसे जघन्य मामलों में भौंडसी जेल में बंद थे। जिन्हें लॉकडाउन में रिहा किया गया। जो अब पुलिस के लिए सिरदर्द बने हुए हैं। पुलिस इनकी निगरानी के लिए कुछेक को तो रोज हाजिरी देने के लिए थाने पर बुला रही है। 
इलाके में जो भी आपराधिक तत्व सक्रिय हैं उन पर पुलिस बराबर नजर रख रही हैं। हमारे यहां पैरोल पर जो बाहर आए हैं उनकी निगरानी के लिए भी संबंधित थानों को निर्देश दिए हैं। -राममूर्ति जोशी, एसपी भिवाड़ी।

पैरोल पर बाहर आए भिवाड़ी निवासी बदमाश ने खोरीकलां गांव में की थी हत्या
भिवाड़ी से सटे हरियाणा के तावडू थाना इलाके के खोरीकलां गांव में 23 जून की रात सूरजपाल नाम के एक युवक की बाइक सवार बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। सूरज मूलत: कलवाड़ी गांव का रहने वाला था लेकिन वह खोरीकलां के प्रेमनगर में रहता था। वर्ष 2016 में हुए एक मर्डर के मामले में वह जेल में बंद था। 2019 में जेल से बाहर आया और अपनी जिंदगी गुजर-बसर कर रहा था। 23 जून की रात वह भिवाड़ी के रामपुरा इलाके में स्थित आशियाना सुरभि सोसायटी से बाइक पर खोरीकलां लौट रहा था।

मामले में हरियाणा पुलिस ने भिवाड़ी के मिलकपुर गांव के बदमाश छोटू उर्फ धर्मेन्द्र को गिरफ्तार किया था। यहां चौंकाने वाली बात यह है कि धर्मेन्द्र भौंडसी जेल में हत्या के मामले में ही बंद था और वह कोरोना की वजह से पैरोल पर आया हुआ था। जिस ने यूपी के बदमाशों के साथ मिलकर इस वारदात को अंजाम दिया। इस मामले में नयागांव के एक और बदमाश शोएब की तलाश में पुलिस जुटी है, जो भी पैरोल पर बाहर आया हुआ है। इस हत्याकांड के पीछे भिवाड़ी की गज्जू और विनोद नंगलिया गैंग की आपसी रंजिश भी सामने आई हैं। मृतक सूरज के तार विनोद नंगलिया के साथ थे। जिससे गज्जू की अनबन थी। गज्जू का भाई पवन जिसे यूपी की बुलंदशहर पुलिस ने कुछ माह पूर्व एक मुठभेड़ में दबोचा था ने अपने जेल के संपर्कों के माध्यम से इस वारदात को अंजाम दिलाया।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- वर्तमान परिस्थितियों को समझते हुए भविष्य संबंधी योजनाओं पर कुछ विचार विमर्श करेंगे। तथा परिवार में चल रही अव्यवस्था को भी दूर करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण नियम बनाएंगे और आप काफी हद तक इन कार्य...

    और पढ़ें