पानी की समस्या:जलदाय दफ्तर पहुंचे लाेगाें काे अधिकारी नहीं मिले, ताे मेनगेट पर लगाया ताला

अलवरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जेईएन से तकरार : जलदाय विभाग के कार्यालय के मुख्य दरवाजे पर जेईएन से भिड़ते लाेग। - Dainik Bhaskar
जेईएन से तकरार : जलदाय विभाग के कार्यालय के मुख्य दरवाजे पर जेईएन से भिड़ते लाेग।

सर्दी के माैसम में भी शहर में पानी की समस्या कम नहीं हाे रही है। शाहजी का बास क्षेत्र के लाेग पानी की समस्या के संबंध में साेमवार काे मनुमार्ग जलदाय कार्यालय पहुंचे, ताे काेई अधिकारी नहीं मिलने पर उन्हाेंने मुख्य दरवाजे पर ताला लगा दिया और विराेध प्रदर्शन किया। इस दाैरान एईएन कार्यालयाें के दरवाजे तक नहीं खुले थे। शाहजी का बास के लाेग सुबह 10.15 बजे जलदाय दफ्तर पहुंचे और 11.15 बजे उन्हाेंने ताला लगा दिया। शाहजी का बास क्षेत्र के लाेगाें ने बताया कि डेढ़ साल से पानी की समस्या से त्रस्त हैं। अब जलदाय विभाग दाे दिन में एकबार 5 मिनट के लिए पानी की सप्लाई दे रहा है।

इससे पूरे क्षेत्र में पानी की त्राहि-त्राहि मची है। दाे दिन पहले वे एईएन मुकेश मीणा से मिले थे। उन्हाेंने समस्या का समाधान करने का आश्वासन दिया था, लेकिन काेई कार्रवाई नहीं हाेने पर हम साेमवार काे फिर जलदाय दफ्तर आए, ताे हमारी समस्या सुनने के लिए जेईएन से लेकर एसीई तक काेई भी अधिकारी नहीं मिला। कुछ देर इंतजार करने के बाद भी जब काेई अधिकारी नहीं आया, ताे गुस्साए लाेगाें ने कार्यालय के मेनगेट पर ताला लगा दिया और सूचना एडीएम सिटी सुनीता पंकज काे दी। प्रशासनिक अफसराें ने जलदाय अधिकारियाें से बात की।

इसके बाद जेईएन जगमाल सिंह नरुका करीब 11.45 बजे ऑफिस आए, ताे उनसे लाेगाें की बहस हाे गई। बाद में अतिरिक्त मुख्य अभियंता आदित्य शर्मा व अधीक्षण अभियंता सुनील गर्ग 12.30 बजे आफिस आए। उन्हाेंने समस्या हल करने का आश्वासन दिया। इसके बाद करीब 12.30 बजे गेट का ताला खाेला गया। प्रदर्शन करने वालाें में पूर्व पार्षद रमन सैनी, लक्ष्मण सिंह, इंदरलाल सैनी, कमल सैनी, ओमप्रकाश सैनी, मदनलाल, परमानंद, अशाेक, राजू सहित बड़ी संख्या में महिला-पुरुष शामिल थे। जलदाय एसई सुनील गर्ग ने बाद में जेईएन नरुका के साथ माैके की स्थिति देखी और लाेगाें से समस्या की जानकारी ली।

उन्हाेंने सप्लाई बढ़ाने की बात कही। एसई ने बताया कि वे एसीई आदित्य शर्मा के साथ राजगढ़ में सप्लाई याेजना की जानकारी लेने गए थे। एक्सईएन जेपी मीणा जयपुर में काेर्ट केस में गए हैं। एईएन छुट्टी पर थे। जेईएन नरुका दिवाकरी में पाइप लाइन के संबंध में गए हुए थे। इसलिए कार्यालय में नहीं थे।

कर्मचारी ऐसे अंदर गए : लोगों ने ताला लगा दिया ताे दूसरे गेट से कर्मचारी इस तरह अंदर गए।
कर्मचारी ऐसे अंदर गए : लोगों ने ताला लगा दिया ताे दूसरे गेट से कर्मचारी इस तरह अंदर गए।
खबरें और भी हैं...