पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

21 जनवरी काे करेंगे पंचायताें में तालाबंदी:सरपंचों ने कहा- सरकार छीन रही हक, आईडी नहीं बनवाएंगे

अलवर3 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिले के सरपंचों की बुधवार को यहां जयपुर रोड स्थित एक रिसोर्ट में बैठक हुई। बैठक में सरपंचों ने ग्राम पंचायत के पीडी खाते का विरोध करते हुए कहा कि सरकार सरपंचों का हक छीन रही है। ग्राम पंचायतों के ब्याज रहित पीडी खाते खोलकर संवैधानिक वित्तीय अधिकारों में कटौती की जा रही है।

सरपंच संघ के जिलाध्यक्ष अशोक यादव की अध्यक्षता में हुई बैठक में सरपंचों ने कहा कि सरकार से सभी सरपंच एकजुट होकर अपने हक की लड़ाई लडेंगे। सरकार अधिकाराें पर अतिक्रमण कर उनके हितों पर कुठाराघात कर रही है। सरकार की नीतियों के विरोध में सरपंच 21 जनवरी को सभी पंचायतों में तालाबंदी कर प्रदर्शन करेंगे और 30 जनवरी को सरपंच संघ की बैठक कर रणनीति पर विचार किया जाएगा।

सरपंचों ने कहा कि महात्मा गांधी के ग्राम स्वराज के सपने को पूरा करने के लिए पंचायती राज संस्थाओं के जरिए पंचायतराज को सशक्त बनाया, जिसके लिए कई संविधान संशोधन किए हैं।

संवैधानिक अधिकारों के लिए 73वां संशोधन किया गया, लेकिन अब सरकार ग्राम पंचायतों का ही हक छीन रही है। सभी पंचायत समितियों के सरपंच संघ अध्यक्षों ने बैठक को संबोधित किया। इसके बाद जिलाध्यक्ष यादव के नेतृत्व में सरपंचों के प्रतिनिधिमंडल ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर जिला कलेक्टर नन्नूमल पहाड़िया को ज्ञापन सौंपा।

मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव, एसीएस व वित्त विभाग के प्रमुख सचिव के नाम सौंपे ज्ञापन में कहा है कि सरकार नए नियमों से पंचायती राज संस्थाओं की वित्तीय हालत नाजुक कर रही है। दो साल में केन्द्रीय वित्त आयोग की राशि के अलावा राज्य वित्त आयोग की राशि ग्राम पंचायतों को हस्तांतरित नहीं की गई।

यहां तक कि राज्य वित्त आयोग की सिफारिश के अनुसार वर्ष 2019-20 में 4 हजार करोड़ में से एक भी रुपया ग्राम पंचायतों को हस्तांतरित नहीं किया। वित्त आयोग की प्रथम किश्त की राशि 1450 करोड़ रुपए में से 364 करोड़ पंचायत समितियों और जिला परिषदों को 2019 में ही हस्तांतरित कर दिए गए, जबकि ग्राम पंचायतों के हक के 1086 करोड़ नहीं मिले।

30 अक्टूबर 2019 को प्रशासनिक व वित्तीय स्वीकृति जारी भी कर दी गई, लेकिन ग्राम पंचायतों को यह राशि नहीं मिली। सरकार ने ग्राम पंचायतों के वित्तीय स्वायत्तता एवं संवैधानिक अधिकारों पर कुठाराघात करते हुए ब्याज रहित पीडी खाते खोल दिए हैं। पीडी खाते की कस्टोडियन सीधे राज्य सरकार की होती है। ऐसे में ग्राम पंचायतों की संवैधानिक रूप से वित्तीय स्वतंत्रता समाप्त की जा रही है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser