गो‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌‌वर्धन पूजा कर भैया को किया तिलक:अन्नकूट पर सजी 56 भाेग की झांकी और गाेवर्धन पूजा हुई, भैयादूज मनाई

अलवरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बलदाऊजी मंदिर में अायाेजित अन्नकूट महाेत्सव में उपस्थित श्रद्धालु। - Dainik Bhaskar
बलदाऊजी मंदिर में अायाेजित अन्नकूट महाेत्सव में उपस्थित श्रद्धालु।

दीपाेत्सव के तहत 4 नवंबर काे दीपावली, 5 नवंबर काे अन्नकूट व गाेर्वधन पूजा और 6 नवंबर काे भैयादूज मनाई गई। 4 नवंबर काे मुहूर्तानुसार घराें, व्यापारिक प्रतिष्ठानाें व औद्याेगिक इकाइयाें में लक्ष्मी व गणेश जी का विधि विधान से पूजन किया गया। दीपावली के अगले दिन मंदिराें व सामाजिक संगठनाें की अाेर से अन्नकूट महाेत्सव मनाया गया। इस अवसर पर मंदिराें में महाआरती के बाद 56 भाेग की झांकी सजाई गई। इस दिन शाम काे घराें और सामूहिक रूप से माेहल्लाें व कालाेनियाें में गाेवर्धन पूजा की गई। शनिवार काे भैयादूज मनाई गई।

महिलाओं और युवतियाें ने भैयादूज की कथा सुनी। बहनाें ने भाइयाें के तिलक कर लंबी आयु की कामना की और मिठाई खिलाई। भाइयाें ने भी बहनाें काे उपहार दिए। अग्रवाल समाज की ओर से बडेरिया पाड़ी माेहल्ला स्थित बलदाऊ मंदिर में 5 नवंबर काे अन्नकूट महोत्सव धूमधाम से मनाया गया।

रमेश चंद सिंघल ने बताया कि भगवान बलदाऊ महाराज को मिक्स सब्जी, कढ़ी, बाजरा, चावल, मूंग व खीर का भोग लगाया गया और महाआरती की गई। इधर, यादव शहर सभा की ओर से राधाकृष्ण मंदिर में अन्नकूट महाेत्सव और गाेवर्धन पूजा की गई। प्रवक्ता पंकज यादव ने बताया कि कार्यक्रम में बलराम यादव, श्यामलाल यादव, पंकज यादव, अमर सिंह, रामबाबू, प्रभूदयाल यादव, गिरधारी यादव, पुष्पेंद्र धाबाई व जयदीप यादव का सहयाेग रहा।

खबरें और भी हैं...