• Hindi News
  • Local
  • Rajasthan
  • Alwar
  • There Is No Place To Stand In The Roadways Bus Going From Alwar To Kaman, Neither The Mask On The Face Of The Elderly Nor The Children

रोडवेस बस नहीं, काेराेना बम है:अलवर से कामां जा रही राेडवेज बस में खड़े होने की जगह नहीं, न बुजुर्गों के चेहरे पर मास्क न बच्चों के

अलवर10 दिन पहले
रोडवेज बस में सवारी।

जब इटली से अमृतसर आने वाली फ्लाइट में 170 में से 125 कोरोना पॉजिटिव आ सकते हैं तो अलवर से कामां जा रही है यह बस तो कोरोना बम है। इसमें सीट से दोगुना सवारी हैं। सवारी एक-दूसरे के सटकर ही नहीं खड़ी ब्लकि खचाखच भरी हैं। एक भी संक्रमित हुआ तो ज्यादातर को कोरोना संक्रमण होने का पूरा डर है। लेकिन जिम्मेदार बस कंडक्टर, रोडवेज प्रशासन व प्रशासनिक अधिकारियों को परवाह नहीं है। वरना कोरोना की तीसरी में रिकॉर्ड संक्रमण फैलने के बावजूद भी सख्ती नहीं की गई है। कोरोना के केस में गंभीरता बढ़ी तो मुश्किल आना तय है।

अलवर-कामां रोडवेज बस का हाल
अलवर-कामां रोडवेज बस में क्षमता से दोगुना सवारी भरी थी। सवारियों के मुंह पर मास्क तक नहीं है। दो गज की दूरी का सवाल ही नहीं है। बस में जितने बच्चे नजर आए। उससे दोगुने बुजुर्ग हैं। दोनों को ही संक्रमण होने का डर है।

अलवर में कोरोना की रफ्तार हर दिन दोगुना केस
अलवर जिले में जयपुर व जोधपुर के बाद सबसे अधिक कोरोना के केस आने लगे हैं। हर दिन दोगुना कोरोना के केस आ रहे हैं। गुरुवार को अलवर जिले में 144 कोरोना पॉजिटिव आए। इसके पहले दिन 79, उससे पहले 39 और 17 पॉजिटिव आए। जिससे साफ है कि कोरोना केस हर दिन दोगुना हो रहे हैं। जो साफ चेता रहे हैं कि संक्रमण तेजी से फैल रहा है। इसके बावजूद गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाई जा रही है। ऐसे में प्रशासन को सख्ती की जरूरत है। वहीं आमजन को गाइडलाइन की पालना करने की जरूरत है।