पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

स्वास्थ्य :अलवर जिले के 63 स्वास्थ्य केन्द्रों में इलाज की कोई व्यवस्था नहीं

अलवर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • इन केंद्रों पर दोहरे स्वास्थ्य केंद्रो वाली ग्राम पंचायताें से स्टाफ लगाने की तैयारी
Advertisement
Advertisement

जिले में 63 ऐसी पंचायतें हैं, जहां इलाज की कोई व्यवस्था नहीं है। इनमें ना तो पीएचसी है और न ही उप स्वास्थ्य केन्द्र (सब सेंटर)। इन पंचायतों के लोग बीमार होने पर दूसरे गांवों में इलाज के लिए जाते हैं। जबकि जिले में ऐसी भी ग्राम पंचायतें हैं, जहां दो-दो स्वास्थ्य केन्द्र खुले हुए हैं। जिन पंचायतों में स्वास्थ्य केन्द्र नहीं हैं, वहां चिकित्सा संस्थान खोलने की तैयारी है।

सीएमएचओ ने दोहरे चिकित्सा केन्द्र वाली ग्राम पंचायत और चिकित्सा केन्द्र विहीन पंचायतों की सूची सरकार को भेजी है। जिन पंचायतों में स्वास्थ्य केन्द्र नहीं हैं, वे पंचायतें बानसूर, थानागाजी, रामगढ़, राजगढ़, कठूमर, गोविंदगढ़, किशनगढ़बास, कोटकासिम, मालाखेड़ा, उमरैण, मुंडावर, नीमराना, तिजारा, लक्ष्मणगढ़ पंचायत समिति में हैं। सरकार अब दोहरे चिकित्सा संस्थान और चिकित्सा विहीन ग्राम पंचायतों की सूची तैयार कर रही है। ताकि यहां से स्टाफ का समायोजन किया जा सके।

इन पंचायत समितियों में दोहरे चिकित्सा केन्द्र

बहरोड़ पंचायत समिति की 3 ग्राम पंचायतों, कठूमर की 3, किशनगढ़बास की 4, तिजारा की 1, कोटकासिम की 2, लक्ष्मणगढ़ की 4, मालाखेड़ा की 4, मुंडावर की 7, नीमराना की 3, राजगढ़ की 3, रामगढ़ की 4, रैणी की 2, थानागाजी की 4, तिजारा की 14 और उमरैण पंचायत समिति की एक पंचायत में दोहरे चिकित्सा केन्द्र हैं।
^सरकार की ओर से विधानसभा और पंचायत समिति वार चिकित्सा संस्थानों की सूची मांगी थी। ग्राम पंचायतों में दोहरे चिकित्सा केन्द्र और चिकित्सा केन्द्र विहीन पंचायतों की पंचायत समिति और विधानसभावार सूची भेज दी गई है।

- डॉ. ओमप्रकाश मीणा, सीएमएचओ

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज का दिन पारिवारिक और आर्थिक दोनों दृष्टि से शुभ फलदायी है। व्यक्तिगत कार्यों में सफलता मिलने से मानसिक शांति का अनुभव करेंगे। कठिन से कठिन कार्य को आप अपने दृढ़ निश्चय से पूरा करने की क्षमत...

और पढ़ें

Advertisement