सबूताें के आधार पर सजा:किशाेरी से सामूहिक दुष्कर्म में दो दाेषियाें को मरते दम तक कारावास

अलवर2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

विशिष्ठ न्यायाधीश पाॅक्साे अधिनियम संख्या-एक अनूप पाठक ने नाबालिग किशाेरी का अपहरण कर सामूहिक दुष्कर्म के मामले में मालाखेड़ा थाना क्षेत्र के रहने वाले दाे लाेगाें शेरसिंह व लेखराम को दोषी मानते हुए मरते दम तक कारावास एवं 56 हजार रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई है।

विशिष्ठ लोक अभियोजक रोशनदीन खान ने बताया कि मामले में पीड़िता के परिजनों ने 9 मार्च 2020 को थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि 8 मार्च की रात 9 बजे आरोपी शेरसिंह व लेखराम पीड़िता का मोटरसाइकिल पर अपहरण कर ले गए और सुनसान जगह ले जाकर ज्यादती की।

जांच के बाद पुलिस ने दोनों आराेपियाें को गिरफ्तार कर काेर्ट में चालान पेश किया। अदालत में सुनवाई के दौरान पीड़िता व उसके परिजनों के पक्षद्रोही हो जाने के बाद भी पत्रावली पर आए साक्ष्य और एफएसएल रिपोर्ट में मामले की पुष्टि होने के आधार पर दोनों आरोपियों को दोषी मानते हुए यह सजा सुनाई गई है।

खबरें और भी हैं...