इंदिरा रसोई के कार्यक्रम में नहीं आए लोग:जब CM वर्चुअल बोल रहे थे, तब 4-5 लोग ही कुर्सियों पर नजर आए

अलवर2 महीने पहले
कार्यक्रम में कुर्सियां खाली।

अलवर में बाबू शोभाराम राजकीय कला कॉलेज में रविवार दोपहर को इंदिरा रसोई की शुरूआत की गई। CM अशोक गहलोत ने पूरे प्रदेश की रसोई का उद्घाटन वर्चुअल किया। जब CM गहलोत संबोधित कर रहे थे। तब अलवर के कला कॉलेज में मंच के सामने लगी कुर्सियों ने चार-पांच लोग ही बैठे थे।

बाद में कुछ लोगों को बुलाया गया। तब तक अतिथियाें ने इंतजार किया। पहले खाना चखा। फिर कार्यक्रम को पूरा किया। मुख्य अतिथि बीसूका के जिला उपाध्यक्ष योगेश मिश्रा थे। बाद में परिषद कर्मचारियों को आगे कुर्सियों पर बैठाया गया।

मंच पर मौजूद अतिथि।
मंच पर मौजूद अतिथि।

उपाध्यक्ष ने कहा कि लोग कम आए

कार्यक्रम में बीसूका उपाध्यक्ष योगेश मिश्रा ने मीडिया को बताया कि लोग कम आए हैं। आगे से लाभार्थियों को बुलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि इंदिरा रसोई में कॉलेज के स्टूडेंट्स भी 8 रुपए में भरपेट खाना खा सकेंगे। यहां अच्छी क्वालिटी का खाना मिलेगा। बाहर के लोग भी आकर खाना खाएंगे। असल में दूर दराज से आने वालों को भूख लगने पर होटलों में अधिक पैसा चुकाना पड़ता है। जिसे देखते हुए सरकार ने गरीब व जरूरतमंद के लिए यह व्यवस्था की है।

काफी देर बाद में परिषद कर्मचारी भी सामने बैठ गए। तब भी इतने लोग हो सके।
काफी देर बाद में परिषद कर्मचारी भी सामने बैठ गए। तब भी इतने लोग हो सके।

पार्षद का नाम भी नहीं

इंदिरा रसोई की पट्टिका पर मौजूदा पार्षद अशोक पाठक का नाम भी नहीं था। जिसको लेकर भी आपत्ति जताई गई। बाद में कहा कि पार्षद का नाम लिखवा दिया जाएगा। कार्यक्रम में सभापति घनश्याम गुर्जर, पार्षद अशोक पाठक, आयुक्त डीपी जाट, प्राचार्या लवलीना व्यास सहित कई पार्षद मौजूद थे।