पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

खेल कूद को प्रोतेसाहन:स्कूल-कॉलेज बंद होने से बच्चों का रुझान खेलों की ओर बढ़ा, प्रेक्टिस करने पहुंच रहे

अलवर3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • इंदिरा गांधी स्टेडियम में दे रहे विभिन्न खेलों का प्रशिक्षण, लड़कियों की संख्या भी बढ़ी

(चंद्रशेखर शर्मा). कोरोना के चलते स्कूल-कॉलेज बंद होने से बच्चों का रुझान खेलों की ओर बढ़ा है। इंदिरा गांधी स्टेडियम में प्रशिक्षण लेने वाले बच्चों की संख्या में इजाफा हुआ है। लड़कों के साथ लड़कियां भी खेल के प्रति रुचि दिखा रही हैं। आसपास के कई गांवों से भी लड़कियां स्टेडियम में प्रेक्टिस के लिए रोजाना आ रही हैं।
जिला खेल अधिकारी अंजना शर्मा कहती हैं कि कोरोना काल में स्टेडियम में केवल खिलाड़ियों को प्रवेश दिया गया। उनकी एंट्री रजिस्टर में अंकित की गई। तापमान चेक किया गया व सैनेटाइज्ड किया गया। मास्क पहनने वालों को ही प्रवेश दिया गया। जिन खेलों की प्रैक्टिस अति आवश्यक थी, उन्हीं खेलों के खिलाड़ियों को एंट्री दी।

स्टेडियम में प्राइवेट प्रशिक्षकों ने भी बढ़-चढ़कर सहयोग दिया। घूमने वालों को कम संख्या में एंट्री दी जा रही है। स्टेडियम के विकास के लिए सिंथेटिक ट्रैक का प्रपोजल बनाकर दिया है। फिट इंडिया कार्यक्रम के तहत सभी खिलाड़ियों ने बढ़-चढ़कर भाग लिया, समय-समय पर रैली निकाली गई।

कोरोना काल में प्रकृति की सेवा के लिए पेड़-पौधों की देखभाल रिटायर्ड बैंक मैनेजर शरण चौधरी ने की। हैंडबॉल कोच नवीन शर्मा व प्रशिक्षक मोनिका वर्मा हैंडबॉल ग्राउंड में खिलाड़ियों को प्रेक्टिस कराते हैं। अभ्यास से बच्चों को शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत किया जा रहा है।

सभी आयु वर्ग में जागरुकता बढ़ी

  • कोरोना काल में सभी आयु वर्ग में स्वास्थ्य के प्रति जागरुकता बढ़ी है। खेलों के प्रति रुझान भी बढ़ा है। सरकार द्वारा विभिन्न कार्यक्रम चालू किए गए। फिट इंडिया फ्रीडम रन में बच्चों व बड़ों ने भागीदारी निभाई। बच्चों को ज्यादा से ज्यादा मोटर एबिलिटी शारीरिक क्रम करवाया गया। जिससे उनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़े और वह स्वस्थ रहें, साथ ही देखने को मिला कि लोगों का रुझान शारीरिक व्यायाम तथा खेलों में बढ़ा है। स्टेडियम में केवल खिलाड़ियों को ही आने की अनुमति दी जा रही है। - प्रेम, फुटबॉल कोच

खिलाड़ियों ने वीडियो की मदद से की प्रेक्टिस

  • कोरोना काल में खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन में निरंतरता लाने व खेल तकनीकी को बढ़ाने के लिए वीडियो की मदद से अभ्यास किया। जब से राज्य सरकार ने राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ियों को अभ्यास के लिए स्टेडियम में जाने की छूट दी, तब से और अधिक अपने प्रदर्शन पर ध्यान दिया। शारीरिक और मानसिक रूप से हर प्रतियोगिता के लिए तैयार होकर उनका आत्मविश्वास बढ़ा। बच्चों में खेलों व स्वास्थ्य के प्रति रुझान इतना हो गया कि हर ग्रामीण क्षेत्र से खिलाड़ी छात्र व छात्रा हैंडबॉल खेल के लिए आने लगे। शारीरिक शिक्षिका मोनिका वर्मा द्वारा हैंडबॉल का प्रशिक्षण देने में सहयोग दिया गया। - नवीन शर्मा, हैंडबॉल कोच

2021 में बॉक्सिंग के कई खिलाड़ी चमकेंगे

  • कोरोना महामारी के दौरान भी खिलाड़ियों ने जज्बे का प्रदर्शन किया व लगातार खेल की प्रैक्टिस अपने घरों में बंद रहकर की। जब से स्टेडियम खिलाड़ियों के लिए खुला, तब से खिलाड़ियों ने बहुत ही अच्छा प्रदर्शन किया व अपने-अपने खेल में उत्कृष्ट प्रदर्शन करते आ रहे हैं। जिसके कारण ना सिर्फ उनके खेल का स्तर उठ रहा है बल्कि उनकी इम्युनिटी पावर भी डवलप हो रही है। किसी भी खिलाड़ी को अभी तक कोरोना संक्रमित नहीं पाया गया है। बॉक्सिंग में ग्लव्स प्रेक्टिस अभी तक शुरू नहीं हो पाई है लेकिन आने वाली नई गाइडलाइन के मुताबिक जल्द ही शुरू होने की संभावनाएं हैं। साल 2021 बॉक्सिंग के लिए शानदार वर्ष रहने वाला है। इसमें अलवर के बॉक्सर राष्ट्रीय स्तर पर पदक विजेता बनेंगे। - संजीव शर्मा, बॉक्सिंग कोच
खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें