कुछ भी मुश्किल नहीं / लॉकडाउन में गांव लौटे युवाओं ने पहाड़ी पर खोद दिया जोहड़

X

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

अलवर.  देश का युवा मन में कुछ करने की ठान ले तो उसके लिए कुछ भी मुश्किल नहीं। रामगढ़ के यादव नगर गांव के युवाओं ने बिना मशीन और एक भी रुपया खर्च किए पहाड़ी ऊंचाई पर पथरीली जमीन पर जोहड़ खुदाई कर यह बात साबित कर दी है। लॉकडाउन में अपने गांव यादव नगर आए गांव के युवाओं को बुजुर्गों ने बताया की गांव के ऊपर पहाड़ी पर समतल पथरीली जमीन है। जहां कभी जोहड़ की तरह बरसात का पानी भरता था। जंगल के जीव जंतु यहां अपनी प्यास बुझाते थे, लेकिन समय के साथ मिट्टी भरने के कारण धीरे-धीरे जोहड़ उथला हो गया। लॉकडाउन में कोई काम नहीं था तो यादव समाज के युवाओं ने बलराम यादव के नेतृत्व में इसके जीर्णोद्धार की ठानी।

फावड़े और कुदाली उठाए और लग गए जोहड़ खुदाई में। बलराम यादव के अनुसार कई दिनों की मेहनत के बाद दर्जनों युवकों ने मिलकर लगभग 6 फुट गहराई तक जोहड़ को खोद दिया है। ग्रामीणों ने बताया की 2 वर्ष पहले मनरेगा योजना के तहत इस पहाड़ी पथरीली भूमि पर जोहड खुदाई का कार्य प्रारंभ करवाया था, लेकिन ऊंचाई ज्यादा होने व वहां तक पानी की व्यवस्था नहीं होने के कारण मजदूरों ने इस काम को करने से इंकार कर दिया। अब इसी जोहड़ को गांव यादव नगर के बलराम यादव, संजय यादव रामगढ़िया,चंद्रपाल यादव,योगेश यादव,विजय यादव, अनिल, मोहन, अमित, देवेश, जसवंत, गोविंद, मोहित, सौरभ, लक्ष्मण, अंकित, अजय, राजवीर, बल्लू, गोलू, दिनेश, रामलाल, रतिराम, कर्मवीर, भीम, अरुण व अमित आदि युवकों के दल ने अपने कठिन परिश्रम से जोहड़ के रूप में तब्दील कर दिया है।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना